--Advertisement--

सुनसान इलाके से शिफ्ट करो जवाहर प्रायमरी या खंडहर तोड़ो

आपराधिक घटनाओं से जवाहर लाल नेहरू स्कूल प्रायमरी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों को बच्चों की सुरक्षा की चिंता स

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 08:45 AM IST

भेल (भोपाल) . शहरमें बढ़ रही आपराधिक घटनाओं से जवाहर लाल नेहरू स्कूल प्रायमरी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों को बच्चों की सुरक्षा की चिंता सताने लगी है। अभिभावकों का कहना है कि छोटे बच्चों का स्कूल सुनसान इलाके में खंडहर मकानों के बीच ही संचालित किया जा रह है। इन खंडहर मकानों में असामाजिक तत्वों का डेरा होने से बच्चों की सुरक्षा को खतरा बढ़ जाता है। हाल ही में स्कूल के एक बच्चे के अपहरण की घटना ने अभिभावकों के डर को और बढ़ा दिया है। इस संबंध में कई अभिभावकों ने भेल प्रबंधन से चर्चा की।

- उन्होने कहा कि भेल प्रबंधन को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और आसापास में लगा रखा है। इसके आसपास के खंडहर मकानों को तोड़ना चाहिए। यदि भेल प्रबंधन ऐसा नहीं कर सकता है तो स्कूल को जवाहर मेन विंग के साथ ही शिफ्ट कर देना चाहिए। क्योंकि सुनसाान एरिए में लग रहे स्कूल में किसी प्रकार की सुरक्षा नहीं है।


- सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी नहीं है। छुट्टी के समय टीचर गेट पर रहते हैं। इसके अलावा स्कूल में सीसीटीवी कैमरों की संख्या भी 7 से बढ़ाकर 17 कर दी गई है। हम बच्चों की सुरक्षा को लेकर पूरी तरह गंभीर है और इस पर हमेशा चर्चा करते हैं।

टीयूसिंह, सचिव भेल शिक्षा मंडल
- हाल ही में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भेल प्रबंधन से चर्चा की। इस चर्चा में प्रबंधन से कहा कि स्कूल के आसपास टूटे और खंडहर खाली मकानों को तोड़ दिया जाए। सुरक्षा के नाम पर स्कूल के गेट पर श्रमिकों को तैनात किया जाता है। यह एक गंभीर और चिंताजनक विषय है।

संदीपमौर्या, अभिभावक