Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News »Bhel News» Illegal Shops Are Removed Before Arrival

अमले के पहुंचने से पहले हट जाती हैं अवैध दुकानें

Bhaskar News | Last Modified - Nov 18, 2017, 07:42 AM IST

अतिक्रमण से जुड़े ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब देने के लिए हाजिर हैं नगर निगम के जोन अध्यक्ष हरि शंकर मिश्रा...
अमले के पहुंचने से पहले हट जाती हैं अवैध दुकानें

भेल (भोपाल). भेलक्षेत्र में सड़कों पर अवैध कब्जे तेजी से बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा स्थिति फुटपाथ या सड़क किनारे हो रहे व्यवसाय के कारण खराब हो रही है। इस कारण आए दिन दुर्घटनाएं भी हो रही हैं। वहीं लोग पैदल भी नहीं निकल पा रहे हैं। इसके बावजूद नगर निगम द्वारा इस तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है, आखिर क्यों? अतिक्रमण से जुड़े ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब देने के लिए हाजिर हैं नगर निगम के जोन अध्यक्ष हरि शंकर मिश्रा...
जनता की अदालत
हरिशंकर मिश्रा

- सड़क किनारे व्यापार की अनुमति नहीं: सड़ककिनारे हाथ ठेलों पर खड़े होकर व्यापार करने की अनुमति निगम द्वारा कभी नहीं दी जाती है। इसके लिए अलग-अलग स्थानों पर हॉकर्स कॉर्नर बनाए हैं।
हॉकर्सकॉर्नर के लिए निगम सर्वे करता है : शहरके कई क्षेत्रों में हॉकर्स कॉर्नर कई बन चुके और कई बन भी रहे हैं। निगम इनकी संख्या बढ़ाने पर विचार कर रहा है। निगम सर्वे कर रहा है जहां भी जरूरत होगी हॉकर्स कॉर्नर बनाया जाएगा।
बढ़ रहे अतिक्रमण पर जवाब देने हाजिर हैं नगर निगम के जोन अध्यक्ष हरि शंकर मिश्रा अमले के पहुंचने से पहले हट जाती हैं अवैध दुकानें अगले सप्ताह जनता की अदालत में हाजिर होंगे नगर निगम पार्षद। अपने सवाल नाम पते के साथ 9200001174 वॉट्सएप पर भेज सकते हैं।

इस क्षेत्र में एक भी सड़क ऐसी नहीं है, जहां सड़क किनारे हाथ ठेले या नीचे बैठकर अस्थाई दुकानें लगी हों। इन पर कार्रवाई क्यों नहीं होती है?
- नगरनिगम जब भी कार्रवाई करने जाता है तो उससे पहले अस्थाई दुकान लगाने वाले उस स्थान से चले जाते हैं। शहर बहुत बड़ा है, नगर निगम का अमला लगातार एक स्थान पर कैसे खड़ा रह सकता है।
लोगोंका आरोप है कि अमले के कर्मचारियों और अतिक्रमण कारियों की साठगांठ के कारण कार्रवाई नहीं होती है, क्या यह सच है?
- यह आरोप पूरी तरह से गलत है। अमला हाथ ठेलों और दुकानों को कई बार जब्त कर चुका है। इनके ऊपर पेनल्टी भी लगी है। यदि कोई कर्मचारी ऐसा करता है तो लोग उसकी शिकायत करें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhel News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: amle ke phunchne se pehle ht jaati hain avaidh dukanen
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Bhel Bhaskar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×