--Advertisement--

खरीफ में मक्का 1425 रुपए खरीदी रबी में 600 रु. क्विंटल भाव भी नहीं

किसान राज्यमंत्री से बोले- रबी के मक्का को भावांतर में शामिल कराएं, राज्यमंत्री बोले- कर सकते हैं घोषणा भास्कर...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:20 AM IST
किसान राज्यमंत्री से बोले- रबी के मक्का को भावांतर में शामिल कराएं, राज्यमंत्री बोले- कर सकते हैं घोषणा

भास्कर संवाददाता | खरगोन/भीकनगांव

खरीफ सीजन में मुख्यमंत्री भावांतर योजना में मक्का की 1425 रुपए क्विंटल खरीदी की गई। अभी मंडी में मुश्किल से 600 रुपए क्विंटल के आसपास भाव मिल रहे हैं। भारी घाटा उठा रहे किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को राज्यमंत्री बालकृष्ण पाटीदार को मक्का की सरकारी खरीदी करने व भावांतर योजना में शामिल करने की मांग का पत्र सौंपा।

रबी के सीजन में भगवानपुरा, उमरखली, कुम्हारखेड़ा, कसरावद, भीकनगांव, झिरन्या व सेगांव क्षेत्र में बड़े पैमाने पर रबी में मक्का की खेती की जा रही है। खरीफ में 53 हजार 410 हेक्टेयर रकबा था। रबी में भी यह रकबा 11 हजार हेक्टेयर के आसपास है। देवेंद्रसिंह चौहान, राजेंद्र पटेल, भारत पटेल, महिपालसिंह, बादामसिंह, बहादरसिंह आदि किसानों ने बताया खरीफ की खरीदी के बाद फिलहाल अनाज मंडियों में मक्का खरीदी हो रही है। किसानों का कहना है रोज 400 से ज्यादा वाहन मक्का जिलेभर की मंडियों में पहुंच रहा है। भाव कम होने से 500-800 रुपए क्विंटल तक घाटा उठाना पड़ रहा है। नीलामी में कई व्यापारी खरीदी में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। उनकी मांग है कि रबी सीजन की मक्का भी समर्थन मूल्य 1425 रुपए क्विंटल की दर पर खरीदी जाए। राज्यमंत्री ने कहा कि किसानों की यह परेशानी सीएम के सामने रखी जाएगी। वे घोषणा कर सकते हैं।

800 रुपए क्विंटल तक उठा रहे नुकसान- मक्का उत्पादक किसानों को रबी सीजन में 500-800 रुपए या उससे भी कम भाव मिलने से निराशा है। खरीफ सीजन में 1425 रुपए भाव मिले थे। 800 रुपए क्विंटल तक घाटा उठा रहे हैं। किसानों ने रबी सीजन की मक्का को भावांतर योजना में शामिल करने की मांग की है। पोखराबाद के बलीराम नायक, सुनील पंवार, राजा नायक, रतन नायक, करण नायक, बलीराम नायक, खेमराज ठाकुर, अशोक बाबूलाल, ओमप्रकाश ठाकुर, राकेश चौहान, अनिल जायसवाल ने बताया अपरवेदा बांध क्षेत्र में पानी अच्छा होने से खरीफ व रबी की मक्का फसल बड़े पैमाने पर पैदा कर रहे हैं।