भिंड

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Bhind News
  • हनुमान जन्मोत्सव पर मंदिरों में रात 12 बजे दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु
--Advertisement--

हनुमान जन्मोत्सव पर मंदिरों में रात 12 बजे दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु

हनुमान जी की पूजा करते श्रद्धालु। दंदरौआ में हजारों श्रद्धालुओं ने किए डॉ. हनुमान के दर्शन मेहगांव क्षेत्र...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
हनुमान जन्मोत्सव पर मंदिरों में रात 12 बजे दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु
हनुमान जी की पूजा करते श्रद्धालु।

दंदरौआ में हजारों श्रद्धालुओं ने किए डॉ. हनुमान के दर्शन

मेहगांव क्षेत्र के प्रसिद्ध दंदरौआ धाम में डॉ. हनुमान के दर्शन करने के लिए ग्वालियर, मेहगांव, भिंड, मुरैना, इटावा, धौलपुर और अन्य जिले से लाखों लोग शनिवार को पहुंचे। यहां उन्होंने संकट मोचन के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। वहीं हनुमानजी के गर्भगृह को फूलों से सजाया गया था। साथ ही मंदिर में संगीतमय रामायण पाठ का आयोजन हुआ। इसके अलावा मंदिर परिसर में आयोजित भंडारे में तीस हजार से अधिक लोगों ने प्रसादी ग्रहण की। मंदिर के महंत रामदास महाराज ने डॉ. हनुमान के दर्शन करने आए श्रद्धालुओं को आशीर्वाद दिया। इसके अलावा मंदिर परिसर में सुंदरकांड पाठ और भजन कार्यक्रम का आयोजन हुआ। वहीं दूसरी ओर हनुमान जयंती के अवसर पर लहार क्षेत्र के प्रसिद्ध रावतपुरा सरकार हनुमान मंदिर पर धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भागीदारी की। इस दौरान धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

महाआरती का हुआ आयोजन

शहर के कॉटनजीन कॉलोनी में स्थित मंशापूर्ण हनुमान मंदिर पर कुछ समाजसेवी संगठनों द्वारा महाआरती का आयोजन किया गया। इस दौरान हनुमान महाराज की 151 दीपों से आरती की गई। वहीं शाम के समय राम धुन कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

नवादा बाग हनुमान मंदिर व मंशापूर्ण मंदिर में महाआरती का किया गया आयोजन

भास्कर संवाददाता | भिंड

शहर सहित अंचल के हनुमान मंदिरों पर शनिवार को हनुमान जन्मोत्सव मनाया गया। शनिवार रात 12 बजे के बाद ही मंदिर के पट खुल गए और श्रद्धालुओं ने बजरंग बली के दर्शन किए। लोगों ने मंदिरों में सुंदरकांड के आयोजन कर साधु-संतों को भोजन कराया। इस दिन हनुमान मंदिरों को फूल बंगला से सजाया गया। वहीं हनुमान और भगवान श्रीराम मंदिरों पर आस्था का सैलाब दिखाई दिया। लोगों को पूजा पाठ कर बजरंगबली से मंगलमय जीवन की कामना की। साथ ही उनके द्वारा हनुमान की महाआरती उतारी।

गौरतलब है कि हनुमान जयंती के अवसर पर शनिवार को सुबह से ही हनुमान मंदिरों में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हुआ जो देर रात तक चलता रहा। शहर के मंशापूर्ण हनुमान मंदिर, बजरिया हनुमान मंदिर,जामना वाले हनुमान मंदिर, नवादा हनुमान मंदिर, वीरेंद्र वाटिका हनुमान मंदिर, पंचमुखी हनुमान मंदिर, पीपल वाले हनुमान मंदिर, डिडी के हनुमान मंदिर सहित अन्य मंदिरों पर भी लोगों ने हनुमानजी की विधि-विधान से पूजा अर्चना की। इसके साथ ही मंदिरों पर अन्य धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

हनुमानजी का विभिन्न रूपों में किया शृंगार

भगवान राम के परम भक्त की जयंती पर हनुमानजी की प्रतिमाओं का विभिन्न रूपों में आकर्षक शृंगार कर चोला चढ़ाया गया। इस दौरान भक्तों द्वारा सुंदरकांड पाठ, रामायण पाठ, भजन कीर्तन कर रात्रि जागरण किया गया। वहीं हनुमान मंदिरों को विभिन्न प्रकार के हार-फूलों से सजाकर आकर्षक विद्युत सज्जा की गई। शहर के मंशापूर्ण हनुमान मंदिर, बजरिया हनुमान मंदिर, नवादा बाग हनुमान मंदिर, जामना हनुमान मंदिर आदि पर विराजित प्रतिमाओं का विशेष शृंगार किया गया।

निकाली शोभायात्रा

बजरिया हनुमान सेवा समिति द्वारा शहर में शोभायात्रा निकाली गई। इसमें राम दरबार, राधा-कृष्ण परिवार के साथ काली माता, शिव परिवार के अलावा अन्य देवी-देवता शामिल हुए। शोभायात्रा हनुमान बजरिया से शुरू हुई जो सराफा बाजार, किला रोड, वन खंडेश्वर रोड, नयापुरा, हाउसिंग कॉलोनी, गौरी रोड, अस्पताल रोड, परेड चौराहा, सदर बाजार, गोल मार्केट होते हुए हनुमान मंदिर पर समापन हुआ।

जगह-जगह हुए भंडारे

हनुमान जन्मोत्सव पर श्रद्घालुओं ने मंदिरों को सजाकर हनुमान चालीसा का पाठ कर आरती के साथ भजन-कीर्तन किए। इस अवसर पर भक्तों द्वारा हनुमान मंदिरों को झालरों और लाइटों से जगमगाया साथ ही सड़कों पर ठंडे पानी और शरबत के स्टॉल लगाकर मंदिरों पर भंडारे के आयोजन किए गए। इस मौके पर रास्ते से निकलने वाले राहगीरों को भी शरबत पिलाया। मंदिरों पर हजारों की संख्या में महिला भक्त भी पहुंची। इसके अलावा नवादा बाग बड़े हनुमान मंदिर पर भंडारे का आयोजन किया गया है, जो देर रात तक चलता रहा।

सुरक्षा के रहे पुख्ता इंतजाम

हनुमान मंदिरों पर सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए। वहीं दंदरौआ हनुमान मंदिर पर करीब एक सैकड़ा से अधिक पुलिस बल तैनात रहा। मंदिर से पहले ही दो पहिया और चार पहिया वाहनों को रोक दिया गया। साथ ही मंदिर पर मेले का आयोजन भी किया गया। देर रात से ही मंदिर में साफ सफाई का काम शुरु कर दिया गया था।

यहां हुए धार्मिक कार्यक्रम

अंचल के गोहद, मेहगांव, लहार, आलमपुर, अमायन, ऊमरी, अटेर, फूफ, गोरमी, मालनपुर, मौ सहित अन्य जगहों के हनुमान मंदिरों पर भी धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

X
हनुमान जन्मोत्सव पर मंदिरों में रात 12 बजे दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु
Click to listen..