Hindi News »Madhya Pradesh »Bhind» 15 महिलाओं को मिले नि:शुल्क गैस कनेक्शन

15 महिलाओं को मिले नि:शुल्क गैस कनेक्शन

शहर के बालाजी गैस गोदाम परिसर में सुरक्षा संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

शहर के बालाजी गैस गोदाम परिसर में सुरक्षा संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 15 हितग्राहियों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन दिए गए। इस मौके पर मुख्यअतिथि भाजपा युवा मोर्चा के मोर्चा नगर महामंत्री रक्षपाल सिंह राजावत,भाजपा नगर महामंत्री मनीष सिंह कुशवाह मौजूद रहे।

कार्यक्रम के दौरान महामंत्री राजावत ने कहा कि महिलाओं के उत्थान और विकास की सोच हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में है, जिसके चलते उज्ज्वला गैस कनेक्शन योजना शुरू की गई है। योजना के शुरू होने से महिलाओं के स्वास्थ्य की रक्षा हो रही है। वहीं सक्षम और समर्थ लोगों को सब्सिडी छोड़ना चाहिए, जिससे इसका लाभ गरीब परिवारों को ज्यादा से ज्यादा मिल सके। गैस कनेक्शन प्राप्त करने के बाद उसे संचालित व उपयोग करने की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए। गैस की टंकी का ईंधन खत्म हो जाने के बाद भारत सरकार के माध्यम से आपको सब्सिडी में कम दर पर गैस टंकी प्राप्त करने की व्यवस्था है। उज्ज्वला गैस कनेक्शन योजना से हमारी माताओं बहनों को काफी राहत व सहायता मिली है। पहले हमारी माताओं बहनों काे जंगलों से लकड़ी लाने दिनभर का समय लग जाता था। इससे वनों की हानि के साथ-साथ समय की भी हानि होती थी। घर परिवार की देखभाल ठीक ढंग से नहीं हो पाती थी तथा बच्चे भी साथ में लकड़ी बीनने के लिए चले जाया करते थे। इससे बच्चों के शिक्षा पर भी विपरीत असर पड़ता था।

उज्ज्वला योजना

गुरुवार को सुरक्षा संगोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें महिलाओं को बांटे गैस कनेक्शन

हितग्राहियों को बताए सुरक्षा के उपाय

सुरक्षा संगोष्ठी कार्यक्रम के दौरान बालाजी गैस एजेंसी मालिक रमन गुप्ता ने हितग्राहियों को एलपीजी गैस सुरक्षा के उपाय में बताया कि रसोई गैस का उपयोग किस प्रकार किया जाना है एवं गैस टंकी को खिड़की के पास रखा जाना चाहिए, गैस को चालू करने से पहले सभी खिड़की एवं दरवाजे को खुला करना चाहिए,खाना पकाने के बाद हमें यह चेक करना चाहिए कि टंकी का वाल्व बंद किया है की नहीं एवं किसी भी प्रकार से गैस का रिसाव हो तत्काल गैस एजेंसी वाले को बुलाकर उसका निदान किया जाए। इस मौके पर वार्ड पार्षद सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

खाना बनाने में लगता है कम समय

कार्यक्रम के दौरान शामिल हुई महिला हितग्राहियों ने कहा कि घर में गैस कनेक्शन नहीं होने पर हम लोगों को चूल्हे पर खाना पकाना पड़ता है। जिससे उसके पूरे घर में धुआं होता है और उसकी आंखों में जलन एवं खांसी हो जाती है। उसे एवं अन्य महिलाओं को जब शासन की उज्जवला योजना का पता चला तो उसने इसके लिए आवेदन दिया और उसे उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन मिला। अब गैस चूल्हे पर खाना पकाने में हम लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhind

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×