भिंड

--Advertisement--

नपा में फर्जी तरीके से बना दिया बीपीएल कार्ड

Danik Bhaskar

Mar 02, 2018, 03:10 AM IST


भिंड | नगर पालिका सिस्टम के सितम की भी हद हो गई जो वह चाहे वही हो सकता है, फिर चाहे वह पात्र को अपात्र ओर अपात्र को पात्र बना दे। यह सिस्टम का सच बतलाता है और यही इस की कहानी है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। नगर पालिका द्वारा शहर के अपात्र वार्ड क्रमांक 32 निवासी आनंदी देवी गरीबी रेखा का राशन कार्ड बनाया गया। जिसकी शिकायत के बाद नपा के आलाधिकारियों ने अपात्र का नाम गरीबी रेखा सूची से काटकर उसके बेटे के नाम से कार्ड बना दिया।

गौरतलब है कि साल 2014 में वार्ड क्रमांक 32 निवासी आनंदी देवी का नगर पालिका द्वारा गरीबी रेखा का राशन कार्ड बनाया गया था। इस संबंध में 23 मई 2014 को नपा के आलाधिकारियों से स्थानीय लोगों द्वारा शिकायत की गई। उसके बाद तत्कालीन सीएमओ के द्वारा आनंदी देवी का नाम गरीबी रेखा सूची से हटा दिया। वहीं कुछ रोज बाद आनंदी देवी के बेटे शक्तिसिंह सिसौदिया का गरीबी रेखा का राशनकार्ड सभी नियमों को ताक पर रखकर नपाधिकारियों के द्वारा बना दिया गया। जबकि शक्ति सिंह के नाम पर एक पक्का मकान दो मंजिल सहित अन्य प्रापर्टी है। शक्तिसिंह के नाम से फर्जी तरीके से बने राशन कार्ड की जांच के लिए तत्कालीन सीएमओ आरएस छारी ने आदेश साल 2014 में जारी किया गया था। लेकिन उनका रिटायमेंट होने के बाद अभी तक राशन कार्ड की जांच अधर में अटकी हुई है। वहीं इस बीच वार्ड के स्थानीय लोग इस मामले की जांच करने के लिए नपा अधिकारियों से कई बार मांग कर चुके हैं।

Click to listen..