Hindi News »Madhya Pradesh »Bhind» मृत्युभोज बंद, अब कराएंगे कन्याओं की शादी

मृत्युभोज बंद, अब कराएंगे कन्याओं की शादी

मृत्युभोज को लेकर शहर में ही नहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी लोगों में धारणा बदल रही है। जिले के ग्राम नुन्हाटा के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 03:10 AM IST

मृत्युभोज बंद, अब कराएंगे कन्याओं की शादी
मृत्युभोज को लेकर शहर में ही नहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी लोगों में धारणा बदल रही है। जिले के ग्राम नुन्हाटा के सुल्तान सिंह का पुरा निवासी रूपेंद्र सिंह कुशवाह ने अपने परिजन के साथ ग्रामीण और समाज के लोगों के समक्ष पिता उदयसिंह कुशवाह(66) के निधन पर मृत्युभोज न करने का संकल्प लिया। साथ ही पास वाले गांव मोहन सिंह का पुरा में भी रामचरणदास महाराज(साधु) के निधन पर त्रयोदशी न करने का संकल्प ग्रामीणों ने लिया। कुशवाह परिवार और मोहन सिंह का पुरा के ग्रामीणों द्वारा लिए गए संकल्प की जिलेभर में सराहना की जा रही है।

रूपेंद्र सिंह कुशवाह के पिता उदयसिंह की मृत्यु गत दिवस कैंसर बीमारी के कारण हुई थी। वहीं पिता की त्रयोदशी पर रूपेंद्र सिंह ने 1500 से अधिक कार्ड छपवाए और 10 हजार लोगों का निमंत्रण किया था। इस संबंध में जब शहर के कुछ समाजसेवियों को पता चला तो सभी लोग 1 मार्च को सुल्तान सिंह का पुरा गांव में कुशवाह परिवार से मिलने के लिए पहुंचे। वहां पर समाजसेवियों ने रूपेंद्र सिंह सहित उनके पूरे परिवार को मृत्युभोज न करने की सलाह दी। लेकिन इस दौरान परिवार के कुछ लोग सहमत नहीं हुए, काफी देर समझाने के बाद कुशवाह परिवार के लोगों ने ग्रामीण और समाजसेवियों के समक्ष मृत्युभोज न करने का संकल्प लिया।

समाजसेवियों के समझाने पर रूपेंद्र सिंह ने लिया संकल्प

रूपेंद्र ने छपवा लिए थे 1500 कार्ड, 10 हजार लोगों को दे दिया था निमंत्रण

रूपेंद्र सिंह ने पिता की त्रयोदशी के लोगों को आमंत्रित करने के लिए 1500 कार्ड छपवाए थे। लेकिन मृत्युभोज न करने का संकल्प लेने के बाद उन्होंने सभी कार्ड को फाड़कर फेंक दिए। इस दौरान उन्होंने बताया कि मृत्युभोज पर होने वाली खर्च की राशि से गरीब कन्याओं की शादी की जाएगी। साथ ही राशि का कुछ हिस्सा सामाजिक कार्यों पर खर्च किया जाएगा। संस्कार के तेरहवें दिन पिताजी की आत्मशांति के लिए सिर्फ 13 ब्राह्मण को भोजन कराया जाएगा। इस मौके पर रामऔतार सिंह कुशवाह, सत्य कुमार भारद्वाज, डॉ. इंद्रप्रकाश त्रिपाठी, अमरसिंह भदौरिया, डॉ. शैलेंद्र परिहार, कल्लू सरपंच, प्रमोद भदौरिया, धर्मेंद्र त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhind News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मृत्युभोज बंद, अब कराएंगे कन्याओं की शादी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhind

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×