• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Bhind News
  • बुद्धिमान व्यक्ति वही है, जो ज्ञान की हर बात ग्रहण करे: श्याम
--Advertisement--

बुद्धिमान व्यक्ति वही है, जो ज्ञान की हर बात ग्रहण करे: श्याम

भागवत कथा भगवान कृष्ण का दूसरा रूप है और इसके पठन-पाठन से मनुष्य को पापों से मुक्ति व सर्व सुखों की प्राप्ति होती...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:15 AM IST
भागवत कथा भगवान कृष्ण का दूसरा रूप है और इसके पठन-पाठन से मनुष्य को पापों से मुक्ति व सर्व सुखों की प्राप्ति होती है। यह वचन पांडरी बाबा मंदिर पर चल रही भागवत कथा में पंडित श्यामजी द्विवेदी ने कहे।

उन्होंने कहा कि भागवत महापुराण श्रीकृष्ण का स्वरूप है। बुद्धिमान व्यक्ति वही है, जो ज्ञान की हर बात को ग्रहण करे और अपने जीवन में अपनाए। महापुरुषों के प्रवचनों पर अमल करने से हमें परम सुख की प्राप्ति होती है, वहीं सत्य के मार्ग पर चलने की भी प्रेरणा मिलती है। भागवत कथा में दिए उपदेशों पर चलकर मनुष्य इस कलयुग में ईश्वर को प्राप्त कर सकता है। कथा के आगे उन्होंने बताया कि आदमी के जीवन में इतनी ऊंचाई रहनी चाहिए की वह हर व्यक्ति के गुणों और धर्म का सम्मान कर सके। मनुष्य के जीवन में उदारता ऐसी होना चाहिए, वैसे ही जैसे दीपकों में भेद होता, कोई दीपक महंगा होता है कोई सस्ता होता है लेकिन ज्योति में कोई भेद नहीं होता, वो एक सी होती है। उदार होती है सभी के लिए एक समान उजाला देने होती है। हमें कभी भी ईश्वर और उसकी कृपा को नहीं भूलना चाहिए, क्योंकि उनकी कृपा के बिना हम कुछ नहीं कर सकते हैं। कथा अवसर पर सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।