आचार्यश्री ने छोड़ा कीर्ति स्तंभ, शोभा यात्रा के साथ पहुंचे चैत्यालय मंदिर, रहेंगे 15 दिन

Bhind News - जैन संत आचार्यश्री विशुद्ध सागर महाराज ने आध्यात्मिक श्रावक-साधना संस्कार शिविर समापन के बाद कीर्ति स्तंभ जैन...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:31 AM IST
Bhind News - mp news acharyashree left the kirti stambh shobhaya temple with shobha yatra will stay for 15 days
जैन संत आचार्यश्री विशुद्ध सागर महाराज ने आध्यात्मिक श्रावक-साधना संस्कार शिविर समापन के बाद कीर्ति स्तंभ जैन मंदिर छोड़ दिया है। अब आचार्यश्री 15 दिन चैत्यालय जैन मंदिर में रूकेंगे। शुक्रवार दोपहर को विशुद्ध सागर महाराज ससंघ रहने के लिए मंदिर पहुंचे। इस दौरान उनके साथ सकल जैन समाज के सैकडों लोग मौजूद रहे।

गौरतलब है कि सकल जैन समाज के लोगों के निवेदन को स्वीकार करते हुए शुक्रवार दोपहर 2.30 बजे आचार्यश्री ससंघ चैत्यालय जैन मंदिर में 15 दिन रहने के लिए चले गए। इस दौरान उनके स्वागत में शहर के मुख्य मार्गों पर शोभा यात्रा निकाली। यात्रा में विशुद्ध सागर महाराज के साथ सैकड़ों लोग चल रहे थे। वहीं रास्ते में जगह-जगह श्रद्धालुओं द्वारा आचार्यश्री का स्वागत आैर पूजन किया गया। वहीं साथ चल रहे युवा आचार्यश्री के नाम के जयकारे लगाकर आगे-आगे चल रहे थे। जिससे शहर का वातावरण भक्तिमय हो गया।

बद्री प्रसाद बगिया में ही होंगे मुनिश्री के प्रवचन

मीडिया प्रभारी अतुल जैन आैर ऋषभ जैन ने बताया कि चातुर्मास शुरू होने से पहले आचार्यश्री विशुद्ध सागर महाराज कीर्ति स्तंभ मंदिर में निवास कर रहे थे। लेकिन आध्यात्मिक श्रावक-साधना संस्कार शिविर में श्रद्धालुओं ने महाराज से चैत्यालय मंदिर में रूकने का निवेदन किया था। श्रद्धालुओं के निवेदन पर आचार्यश्री 15 दिन ससंघ सहित मंदिर में रूकेंगे। लेकिन उनके मंगल प्रवचन रोजाना की तरह बद्री प्रसाद बगिया में ही होंगे।

शोभा यात्रा में शामिल आचार्य विशुद्ध सागर।

किंचित मात्र भी मेरा नहीं

शुक्रवार को धर्मसभा में मंगल प्रवचन देते हुए कहा कि किंचित मात्र भी मेरा नहीं है ऐसा आंतरिक अभिप्राय जिस योगी के अंतस में है वही आकिंचन्य धर्म है। यह आत्मा का महान धर्म है,स्वभाव है। अपने आत्म स्वरूप के अतिरिक्त कोई भी अन्य पदार्थ मेरा नहीं है,जो सुख-शांति के उपासक हैं,स्वात्मानंद में लवलीन है यथार्थ में वे ही आकिंचन्य धर्म के धारी है। यथार्थ में तो सत्य यही है कि मेरा कुछ ही है नहीं तो फिर त्याग किसका ।

X
Bhind News - mp news acharyashree left the kirti stambh shobhaya temple with shobha yatra will stay for 15 days
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना