बजरिया नपा ने नोटिस देकर कहा- निर्माण से पहले अनुमति लें

Bhind News - बजरिया में अतिक्रमण हटाने के बाद व्यापारी अपने टूटे हुए घरों को पूरी तरह से सुधार भी नहीं पाए कि नगर पालिका ने...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:46 AM IST
Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
बजरिया में अतिक्रमण हटाने के बाद व्यापारी अपने टूटे हुए घरों को पूरी तरह से सुधार भी नहीं पाए कि नगर पालिका ने उन्हें बिना अनुमति किसी प्रकार का निर्माण न करने के नोटिस थमा दिए। इससे गुस्साए व्यापारियों ने शनिवार की सुबह बजरिया में मलबा उठाने पहुंची जेसीबी मशीन और ट्रैक्टर-ट्राॅलियों काे पथराव कर भगा दिया। साथ ही बायपास के लहार रोड चौराहा पर ट्रैफिक जाम कर दिया। भिंड एसडीएम मोहम्मद इकबाल के आश्वासन पर व्यापारी रोड से हटे और ट्रैफिक जाम खुला। इस दौरान बायपास बायपास पर करीब एक घंटा ट्रैफिक जाम में कई वाहन फंसे रहे।

यहां बता दें कि हाईकोर्ट के आदेश पर शहर के किला रोड बजरिया में गोल मार्केट से नरसिंह राव दीक्षित की कोठी के आगे तक नगरपालिका ने पिछले दिनों अतिक्रमण हटाया था। अभी बजरिया से अतिक्रमण हटाने के दौरान निकला मलबा भी पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है। अतिक्रमण विरोधी मुहिम में तोड़े गए मकानों को व्यापारी सुधरवाना शुरू ही कर रहे थे कि शुक्रवार को नगरपालिका ने उन्हें नोटिस थमा दिए, जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया कि बिना अनुमति कोई निर्माण कार्य नहीं करे। यदि करता है तो वह मध्यप्रदेश नगरपालिका अधिनियम 1961 की धारा 187 के तहत अवैध माना जाएगा। साथ ही बिना अनुमति निर्माण कार्य करने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। यह नोटिस के मिलने के बाद व्यापारी बिफर गए।

गुस्साए व्यापारियों ने नपा की जेसीबी पर किया पथराव, बायपास पर चक्काजाम कर लगाए नारे

सड़क पर बैठकर लहार रोड चौराहा पर किया चक्काजाम, बायपास लगी वाहनों की लंबी कतार

नपा की जेसीबी मशीन काे बजरिया से भगाते स्थानीय लोग।

दर्द: 7 फीट हटाया अतिक्रमण, अब 8 फीट पीछे से बनाने की दे रहे अनुमति

नगर पालिका ने बजरिया में वर्ष 1940 के राजस्व नक्शे के आधार पर एक से सात फीट तक अतिक्रमण चिह्नित किया। इसके बाद 230 भवन स्वामियों को हटाने के लिए नोटिस दिए। इस बार व्यापारियों ने भी स्वेच्छा से स्वयं ही अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया। जब लोगों ने अतिक्रमण हटा लिया तो अब नगर पालिका उन्हें निर्माण शुरू करने से पहले अनुमति लेने की बात कह रही है। नगर पालिका में पार्षद और बजरिया निवासी अनूप पांडेय के मुताबिक नगर पालिका सड़क से आठ फीट पीछे हटकर मकान बनाने की अनुमति दे रही है। वहीं सीएमओ सुरेंद्र शर्मा यह सीमा स्पष्ट रूप से नहीं खोल रहे हैं।

गुस्सा: जेसीबी- ट्रैक्टर-ट्राॅली भगाई, दिनभर नहीं उठा मलबा

शनिवार की सुबह गुस्साए व्यापारी बजरिया में एकत्रित हुए। इसी दौरान बजरिया में पड़े मलबा को उठाने के लिए नगर पालिका की जेसीबी और ट्रैक्टर ट्राॅलियों को व्यापारियों ने भगा दिया। कुछ गुस्साए युवकों ने इन वाहनों पर पथराव भी किया। ऐसे में नगर पालिका कर्मचारी अपने वाहन लेकर लौट गए। हालांकि इस पत्थरबाजी में कोई हताहत नहीं हुआ लेकिन दिनभर बजरिया में मलबा उठाने का कार्य नहीं हुआ। बजरिया में आपाधापी की स्थिति बनी रही।

विरोध: कलेक्टर और सीएमओ मुर्दाबाद के नारे लगाए

गुस्साए व्यापारी शनिवार की दोपहर करीब 12 बजे रैली के रूप में लहार रोड चौराहा पहुंच गए जहां उन्होंने बीच सड़क पर धरना देकर ट्रैफिक जाम कर दिया। साथ ही भिंड कलेक्टर, नगर पालिका सीएमओ के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए। कोतवाली टीआई उदयभान सिंह यादव ने व्यापारियों को समझाने का प्रयास किया लेकिन व्यापारियों की मांग थी कि जब तक कलेक्टर नहीं आते, वे सड़क से नहीं हटेंगे। ऐसे में सीएसपी डीएस बैस भी व्यापारियों के बीच पहुंचे, लेकिन व्यापारी नहीं माने।

समझाइश: लिखित में मांगें दें, कलेक्टर को बता देंगे: एसडीएम

सीएसपी ने भिंड एसडीएम मोहम्मद इकबाल को मौके पर बुलाया। एसडीएम ने व्यापारियों की बात सुनने के बाद उन्हें बताया कि कलेक्टर अभी बाहर हैं। उनकी जो भी मांगें हैं, वह लिखित में उन्हें दे दें, जिसे वे कलेक्टर को अवगत कराएंगे। साथ ही नगरपालिका सीएमओ से भी इस संबंध में चर्चा करेंगे। एसडीएम के आश्वासन पर व्यापारियों का गुस्सा शांत हुआ। करीब एक घंटे बाद व्यापारी सड़क से हटे तब ट्रैफिक जाम खुल सका। इस दौरान बायपास पर लहार रोड चौराहा के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

कलेक्टर के बंगले का किया घेराव, अपर कलेक्टर ने समझाया

गांधी मार्केट से किला मोड़ तक के भवन स्वामी शाम के समय कलेक्टर छोटे सिंह के ऑफिसर कॉलोनी स्थित बंगले का घेराव करने पहुंचे। जहां कलेक्टर से तो उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। अपर कलेक्टर अनिल कुमार चांदिल लोगों के बीच आए। त लोगों ने कहा कि जब चिह्नित अतिक्रमण हटा लिया गया है तब अनुमति के लिए नोटिस दिया जाना समझ से परे है। नगर पालिका कितनी जमीन छोड़कर निर्माण की अनुमति देना चाहती है यह पहले ही स्पष्ट कर देना था। अब जब निर्माण करा लिए हैं तब नोटिस दिया जाना उपयुक्त नहीं है। लोगों ने पेयजल की लाइनें क्षतिग्रस्त होने से हो रही परेशानी का समाधान कराने की भी मांग की है। अपर कलेक्टर ने कहा कि सोमवार तक स्थिति स्पष्ट कर दी जाएगी।

नपा का नोटिस का दिखाता व्यापारी।

लहार चुंगी चौराहा पर नगर पालिका के खिलाफ नारेबाजी करते व्यापारी ।

अनुमति तो लेना ही हाेगी


Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
X
Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
Bhind News - mp news bajaria nappa gave notice ask permission before construction
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना