• Hindi News
  • Mp
  • Bhind
  • Ron News mp news ban on alcohol in dubka village panchayat will collect 1 thousand rupees from seller and drinker fine up to

डुबका गांव में शराब पर प्रतिबंध, बेचने अौर पीने वाले से पंचायत वसूलेगी 1 हजार रु. तक जुर्माना

Bhind News - रौन जनपद में डुबका गांव के लोगों ने रविवार को शराबबंदी का संकल्प लिया है। इस संकल्प के साथ ही ग्रामवासियों ने तय...

Nov 25, 2019, 08:56 AM IST
Ron News - mp news ban on alcohol in dubka village panchayat will collect 1 thousand rupees from seller and drinker fine up to
रौन जनपद में डुबका गांव के लोगों ने रविवार को शराबबंदी का संकल्प लिया है। इस संकल्प के साथ ही ग्रामवासियों ने तय किया है कि शराब का सेवन करने या बेचने वाले व्यक्ति पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए पंचायत ने एक 20 सदस्यीय निगरानी समिति गठित की है। इस समिति के लोगों का काम शराब बेचने या पीने वालों पर निगरानी रखने का कार्य होगा। संकल्प के बावजूद अगर कोई व्यक्ति गांव में शराब की बिक्री या सेवन करता हुआ पाया जाता है तो उसके खिलाफ पंचायत कार्रवाई करते हुए 100 रुपए से 1 हजार रुपए तक का दंड स्वरूप जुर्माना वसूल करेगी। इस निर्णय को भी पंचायत की चौपाल में ग्रामीणों ने सहजता से स्वीकार किया है। बताना होगा कि गांव की आबादी एक हजार से ज्यादा है। ग्रामीणों ने यह निर्णय युवा वाहिनी की पहल पर लिया है।

आपसी सहयोग से शराबमुक्त ग्राम बनाएं: इस मौके पर मौजूद युवा क्षत्रिय विकास मंच के अध्यक्ष गजराज सिंह चौहान ने कहा कि नशा मुक्त समाज से ही लोगों का जीवन प्रगति में आएगी। सभी को मिलकर ऐसे समाज का निर्माण करना होगा जो नशे से कोसों दूर रहे। कार्यक्रम में बोलते हुए सामाजिक कार्यकर्ता राहुल शर्मा ने ग्राम विकास के विभिन्न तरीके बताते हुए सभी को एकजुटता से कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। युवावाहिनी के समाजसेवी संजीव नायक ने कहा कि शराब दुर्घटनाओं का अहम कारण और परिवार में गृह क्लेश की सबसे बड़ी वजह है। गांव की समस्याओं के निदान हेतु चौपाल में बीस सदस्यीय ग्राम सुधार समिति का गठन किया गया है। जिसमें राजबहादुर, विजय बहादुर, जगमोहन बघेल, भान सिंह बघेल, मुंशी सिंह, रामनरेश, कन्हैया लाल, माता प्रसाद, हरि सिंह, रामदास सिंह, फूल सिंह, अभिलाख सिंह, देव सिंह, बदन सिंह, केशव सिंह, बुद्धि सिंह, महाराज सिंह, कामता सिंह बघेल को शामिल किया गया है। अब यह लोग गांव में शराब पीने वाले और बेचने वाले लोगों पर निगरानी रखेंगे। पकड़े जाने पर जुर्माना भी करेंगे।

रौन जनपद के डुबका गांव में नशाखोरी रोकने 20 सदस्यीय निगरानी समिति बनाई, पंचायत के काम भी करेगी

डुबका के ग्रामीणों को शराबबंदी का संकल्प दिलाते समाजसेवी।

शादी समारोह में भी नहीं पी सकेंगे शराब

शराबबंदी की चौपाल में बड़ी बात यह रही कि शादी समारोह के दौरान भी गांव का कोई व्यक्ति शराब का सेवन नहीं करेगा। ग्रामीणों के इस उद्देश्य के पीछे आए दिन हो रही सड़क दुर्घटनाएं, पारिवारिक विवाद, झगड़े और फालतू खर्च को रोकना है। चौपाल में सरपंच और समाजसेवियों ने भी अपने विचार रखकर नशे जैसी बुराई को जड़ से खत्म करने का आव्हान किया, जिस पर ग्रामीणों ने भी शराबबंदी पर हामी भरी।

2 साल में 80 गांवों में शराबबंदी संकल्प

युवा वाहिनी संगठन के प्रमुख संजीव नायक अपनी टीम के साथ विगत 2 साल से शराबबंदी के लिए अभियान चला रहे हैं। अभी तक जिले के अलग-अलग 80 गांवों में पंचायत के सहयोग से शराबबंदी का संकल्प दिलाया गया है। इसके लिए प्रत्येक गांव में 20 लोगों की एक निगरानी समिति गठित की जाती है, जो नशाखोरी रोकने के अलावा पंचायत के काम भी करती है।

X
Ron News - mp news ban on alcohol in dubka village panchayat will collect 1 thousand rupees from seller and drinker fine up to
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना