काली पट्‌टी बांधकर डॉक्टर्स ने आेपीडी में किया मरीजों का इलाज

Bhind News - पश्चिम बंगाल(कोलकाता) में डॉक्टरों पर हुए हमले के विरोध में शुक्रवार को जिला अस्पताल में डॉक्टर्स ने काली पट्‌टी...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:30 AM IST
Bhind News - mp news doctors treat black patients with epilepsy treatment
पश्चिम बंगाल(कोलकाता) में डॉक्टरों पर हुए हमले के विरोध में शुक्रवार को जिला अस्पताल में डॉक्टर्स ने काली पट्‌टी बांधकर सात घंटे तक ओपीडी में मरीजों का इलाज किया। इसके अलावा जिले के फूफ, ऊमरी सहित अन्य स्वास्थ्य केंद्रों पर भी डॉक्टरों ने काली पट्‌टी बांधकर विरोध प्रकट किया। वहीं जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने कलेक्टोरेट पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर छोटे सिंह को सौंपने के लिए पहुंचे। लेकिन कलेक्टर नहीं मिलने पर उन्होंने कलेक्टर अधीक्षक को ज्ञापन दिया।

शुक्रवार की सुबह करीब 8.30 बजे सभी डॉक्टर्स जिला अस्पताल की ओपीडी पहुंचे। यहां पर उन्होंने थंम मशीन पर अटेंडेंस लगाई। उसके बाद उन्होंने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के बैनर तले पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों पर हुए हमले के विरोध करते हुए अपनी बाजुओं पर काली पट्‌टी बांधी। उसके बाद सभी डॉक्टर्स ओपीडी में मरीजों को देखने के लिए चले गए। इस दौरान सभी डॉक्टर्स का कहना था कि चिकित्सकों के साथ हो रही हिंसक घटनाओं चिकित्सक वर्ग में रोष है। पश्चिम बंगाल की घटना के विरोध में सभी डॉक्टरों ने केंद्रीय आह्वान पर आज के दिन को काला दिवस के रूप में मनाया है।

शाम को कलेक्टोरेट पहुंचकर डॉक्टर्स ने दिया ज्ञापन

शुक्रवार दिन में कलेक्टर छोटे सिंह विभागीय बैठकों में होने के कारण डॉक्टर्स अपनी मांगों को लेकर कलेक्टर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के नाम ज्ञापन नहीं दे सके। जिसके बाद सभी डॉक्टर शाम को ज्ञापन देने के लिए कलेक्टोरेट पहुंचे। वहां पर उनको कलेक्टर नहीं मिले तो उन्होंने अपना ज्ञापन कलेक्टर अधीक्षक को सौंपा। सचिव डॉ. हिमांशू बंसल ने बताया किया कि कलेक्टर साहब के व्यस्त होने के कारण हम लाेगों की मुलाकात उन से नहीं हो सकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को एसोसिएशन ज्ञापन मेल किया जाएगा। इस मौके पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ.केके दीक्षित, सीएमएचओ डॉ.जेपीएस कुशवाह, सिविल सर्जन डॉ.अजीत, डॉ.अनिल गोयल,डॉ.आर के मिश्रा, डॉ. हिमांशू बंसल, डॉ.यूपीएस कुशवाह, डॉ.बीसी जैन, डॉ.सौरभ जैन, डॉ. प्रभात उपाध्याय, डाॅ.आसनन्दीप शाक्य, डॉ. विनोद बाजपेई, डॉ.देवेंद्र सिंह, डॉ.यसवंत सिंह ,डॉ.आरएस कुशवाहा,डॉ. आरके सिंह, डॉ.रविंद्र चौधरी, डॉ.आशीष नेक्या आदि उपस्थित रहे।

तानाशाही रवैया

डॉ. केके दीक्षित का कहना है कि कोलकाता में जूनियर डॉक्टरों के ऊपर हुए प्राणघातक हमले के साथ पश्चिम बंगाल की सरकार का तानाशाही रवैया चिकित्सकों का मनोबल तोड़ने वाला है। ऐसे में सारे देश के चिकित्सक पश्चिम बंगाल के चिकित्सकों के साथ हैं। अगर बंगाल सरकार ने डॉक्टर्स क हित में जल्द कोई फैसला नहीं लिया तो देशभर में मेडिकल व्यवस्था बिगड़ सकती है।

X
Bhind News - mp news doctors treat black patients with epilepsy treatment
COMMENT