नवजात गर्भ से निकलकर बाल्टी में गिरा, मौत

Bhind News - जिला अस्पताल की मेटरनिटी में डॉक्टरों, नर्सों की लापरवाही से जन्म होते ही नवजात की मौत जिला अस्पताल की...

Feb 15, 2020, 08:26 AM IST
Mo News - mp news newborn fell out of the womb into a bucket died

जिला अस्पताल की मेटरनिटी में डॉक्टरों, नर्सों की लापरवाही से जन्म होते ही नवजात की मौत

जिला अस्पताल की मेटरनिटी में डॉक्टरों और नर्सों की लापरवाही से शुक्रवार की सुबह एक नवजात की जन्म लेते ही मौत हो गई। प्रसूता लेबर रूम में टेबल पर कराहती रही। उसकी सास नर्स को पुकारती रही। इसी बीच गर्भ से बच्चा बाहर आ गया और नीचे रखी बाल्टी में जा गिरा। गंभीर चोट लगने से नवजात ने दम तोड़ दिया। इस बीच कोई डॉक्टर भी मौके पर नहीं था। इस मामले में सिविल सर्जन डाॅ. एके गुप्ता का तर्क है कि महिला के गर्भ से मृत बच्चा पैदा हुआ था जबकि प्रसूता के मुताबिक, 12 दिन पहले अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में बच्चे की स्थिति सामान्य बताई गई थी।

किशनपुर मौजा के माधौपुरा के रहने वाले अरुण बंसल की प|ी मनीषा (21) को गुरुवार की रात 10 बजे संस्थागत सुरक्षित प्रसव के लिए जिला अस्पताल की मेटरनिटी में भर्ती कराया गया। शुक्रवार सुबह 4 बजे प्रसव पीड़ा हुई तो नर्सों के कहने पर सास पुष्पा बंसल मनीषा को लेबर रूम में ले गईं और टेबल पर लिटा दिया। इस दौरान प्रसव पीड़ा और बढ़ी और नवजात दिखने लगा। बच्चे को देखकर सास पुष्पा ऑन ड्यूटी नर्सों को आवाज देकर बुलाती रहीं। बकौल पुष्पा बंसल, ड्यूटी पर नर्स प्रीति अग्रवाल थीं। उन्हें कई बार बुलाया, लेकिन वह कहती रही कि कुछ नहीं हुआ। इसी बीच मनीषा का नवजात शिशु गर्भ से निकलकर टेबल के नीचे रखी बाल्टी में जा गिरा। गिरने से नवजात के पेट की स्किन फट गई और बच्चे ने दम तोड़ दिया। नवजात के बाल्टी में गिरने की आवाज सुनकर नर्स प्रसव टेबल के पास आईं और नवजात को लेकर कहीं चली गई। बाद में उसे मृत घोषित कर दिया। मनीषा का कहना है कि इस हादसे के बाद तक ऑन ड्यूटी लेडी डॉक्टर कहीं नजर नहीं आईं। नर्सों की लापरवाही ने उसके बच्चे की जान ले ली।

मेटरनिटी वार्ड में भर्ती मनीषा बंसल।

बच्चा मृत था, शरीर पर स्किन भी नहीं थी

डाॅ. एके गुप्ता, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल

X
Mo News - mp news newborn fell out of the womb into a bucket died
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना