परिवार को बचाए रखने के लिए धैर्य की नितांत आवश्यकता रहती है: शास्त्री

Bhind News - रेहकुला देवी मंदिर पर चल रही भागवत कथा में उमड़ रही भीड़ परिवार को बचाए रखने के लिए धैर्य संयम की नितांत...

Feb 03, 2020, 08:50 AM IST
Ron News - mp news patience is absolutely necessary to save the family shastri

रेहकुला देवी मंदिर पर चल रही भागवत कथा में उमड़ रही भीड़

परिवार को बचाए रखने के लिए धैर्य संयम की नितांत आवश्यकता रहती है। जाे व्यक्ति आवेश में आकर कदम उठाता है वह समय की परिस्थिति को नहीं समझता है। यह कथन रौन में मोनी महाराज की बगिया में चल रही भागवत कथा के छटवें दिन कथा वाचक हस्ता किशोरी ने कही।

उन्होंने भक्त ध्रुव द्वारा तपस्या कर श्रीहरि को प्रसन्न करने की कथा को सुनाते हुए बताया कि भक्ति के लिए कोई उम्र बाधा नहीं है। भक्ति को बचपन में ही करने की प्रेरणा देनी चाहिए क्योंकि बचपन कच्चे मिट्टी की तरह होता है उसे जैसा चाहे वैसा पात्र बनाया जा सकता है। किशोरी ने कहा व्यक्ति अपने जीवन में जिस प्रकार के कर्म करता है उसी के अनुरूप उसे मृत्यु मिलती है। भगवान ध्रुव के सत्कर्मों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ध्रुव की साधना, उनके सत्कर्म तथा ईश्वर के प्रति अटूट श्रद्धा के परिणाम स्वरूप ही उन्हें वैकुंठ लोक प्राप्त हुआ।

श्रीकृष्ण के मार्ग का अनुशरण करें

दबोह में रेहकोला देवी मंदिर पर चल रही श्रीमद भागवत कथा के तीसरे दिन साध्वी ऋतु पांडेय ने बताया कि संसार में जब-जब पाप बढ़ता है, भगवान धरती पर किसी न किसी रूप में अवतरित होते हैं। उन्होंने कहा कि कलयुग में भी मनुष्य सतयुग में भगवान कृष्ण के सिखाए मार्ग का अनुसरण करे तो मनुष्य का जीवन सफल हो सकता है। कथा के दौरान उन्होंने बताया कि पाप के बाद कोई व्यक्ति नरकगामी हो, इसके लिए श्रीमद् भागवत में श्रेष्ठ उपाय प्रायश्चित बताया है। साध्वी ने बताया कि हमारा यह सौभाग्य है कि हम मां रेहकोला देवी के जन्मोत्सव का हिस्सा बने हैं। मातारानी की कृपा से क्षेत्र में धर्म की अलख जगी है। इस आस्था को हमेशा बनाए रखने की नितांत आवश्यकता है।

रेहकुला देवी मंदिर पर भागवत कथा का रसपान करते श्रोता।

X
Ron News - mp news patience is absolutely necessary to save the family shastri

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना