• Hindi News
  • Mp
  • Bhind
  • Bhind News mp news prepare one question daily gradually move it up to five you will get good numbers

रोज एक प्रश्न तैयार करें, धीरे- धीरे पांच तक ले जाएं, आएंगे अच्छे नंबर

Bhind News - बोर्ड की 10 वीं कक्षा की परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे छात्रों के लिए रविवार को जवासा के शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल...

Dec 09, 2019, 07:27 AM IST
बोर्ड की 10 वीं कक्षा की परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे छात्रों के लिए रविवार को जवासा के शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल में नि:शुल्क कोचिंग क्लासेस का शुभारंभ हुआ। इस मौके पर छात्रों को समझाया गया कि वे रोज एक प्रश्न का उत्तर याद करें, धीरे- धीर बढ़ाते हुए यह संख्या पांच तक ले जाएं, परीक्षा में बेहतर अंक ला पाएंगे। इसके साथ ही बताया गया कि अगर किसी प्रश्न का हल प्रेक्टीकल से मिल सकता है तो प्रेक्टीकल जरूर करें। इससे परीक्षा के समय न केवल मनोबल बढ़ रहेगा बल्कि किसी प्रकार का दबाव महसूस नहीं होगा।

यहां बता दें शिक्षक और अध्यापक संगठनों ने बोर्ड की 10 वीं व 12 वीं की परीक्षा का परिणाम सुधारने के लिए नि:शुल्क कोचिंग संचालित करने की प्रक्रिया शुरू की है। कोचिंग में पहुंचे मेहगांव के नायब तहसीलदार रंजीत सिंह कुशवाह ने बच्चों से कहा कि वे लिखकर अभ्यास करेंगे तो परीक्षा में भूलेंगे नहीं। इस मौके पर प्राचार्य एसएन मिश्रा ने परीक्षा पास करना कठिन काम नहीं है पर बच्चों को अच्छे नंबर लाने के लिए तैयारी करना चाहिए। क्योंकि प्रतियोगिता के दौर में योग्यता ही काम आती है। शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल ऊमरी के प्राचार्य जितेंद्र तोमर ने समय प्रबंधन को लेकर कहा कि जिन छात्रों द्वारा समय प्रबंधन कर लिया जाता है वह अपनी परीक्षा की तैयारी बेहतर तरीके से कर पाते हैं। काेचिंग प्रभारी राजीव शर्मा, विमल दैपुरिया, रामकिशोर कौशल, चेतन दुबे, शैलेष त्रिपाठी, संतोष लहरिया, धर्मेंद्र सिंह कुशवाह, संतोष शर्मा, विमल देपुरिया, सुरेंद्र यादव, महीपत सिंह, अमित शर्मा ने कल से शुरू हो रही अर्द्ध वार्षिक परीक्षा के लिए छात्र- छात्राओं को शुभकामनाएं दी गईं।

कोचिंग में छात्रों को टिप्स देते मेहगांव के नायब तहसीलदार।

मौखिक और प्रेक्टीकल से आसानी से समझ आते हैं कठिन प्रश्न

एसआरजी संदीप सिंह कुशवाह ने कहा 10 वीं कक्षा के पाठ्यक्रम में अधिकांश ऐसे पाठ हैं जिन्हें प्रेक्टीकल कर आसानी से समझा जा सकता है। अत: छात्रों को प्रेक्टीकल करने में कतई हिचकिचाना नहीं चाहिए। इसके साथ ही मौखिक अभिव्यक्ति का अभ्यास करना चाहिए। इस कार्य को छात्र आपस में ग्रुप बनाकर भी कर सकते हैं। इससे पढ़ाई करने में काफी आसानी होती है, साथ ही यह याद भी रहता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना