• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • 18 people have died so far due to lightning and typhoon; Chief Minister expressed grief

मप्र / बिजली गिरने और आंधी-तूफान से अब तक 18 लोगों की मौत; मुख्यमंत्री ने दुख जताया



भोपाल में खरीदी केंद्र में रखा गेहूं भी भीग गया। भोपाल में खरीदी केंद्र में रखा गेहूं भी भीग गया।
मप्र के ज्यादातर हिस्सों में तेज बारिश के साथ आंधी चली और बिजली गिरी। मप्र के ज्यादातर हिस्सों में तेज बारिश के साथ आंधी चली और बिजली गिरी।
इससे 18 लोगों के हताहत होने की खबर है। इससे 18 लोगों के हताहत होने की खबर है।
X
भोपाल में खरीदी केंद्र में रखा गेहूं भी भीग गया।भोपाल में खरीदी केंद्र में रखा गेहूं भी भीग गया।
मप्र के ज्यादातर हिस्सों में तेज बारिश के साथ आंधी चली और बिजली गिरी।मप्र के ज्यादातर हिस्सों में तेज बारिश के साथ आंधी चली और बिजली गिरी।
इससे 18 लोगों के हताहत होने की खबर है।इससे 18 लोगों के हताहत होने की खबर है।

  • मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इन घटनाओं को बेहद दुखदायी बताते हुए मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की है
  • मंगलवार (16 अप्रैल) को रात प्रदेश के सभी हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई और ओले गिरे थे  

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 07:36 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश के कारण हुए हादसों और बिजली गिरने के कारण 18 लोगों की मृत्यु हो गयी है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इन घटनाओं को बेहद दुखदायी बताते हुए मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की है।

 

उन्होंने पीड़ित परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार पीड़ित परिवार के साथ है। राज्य सरकार ने इस प्राकृतिक आपदा से पीड़ित परिजनों को नियमानुसार आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की है।

 

राजधानी भोपाल के अलावा इंदौर, धार, शाजापुर, सीहोर, उज्जैन, खरगोन, बड़वानी, राजगढ़ और अन्य जिलों में कल देर शाम के बाद तेज हवाओं के साथ बारिश हुयी और अनेक स्थानों पर बिजली भी गिरी। भीषण गर्मी के बाद इस तरह मौसम में आए अचानक बदलाव के कारण इंदौर जिले के हातोद थाना क्षेत्र में बिजली गिरने के कारण एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गयी।

 

  • इंदौर के निवाड़ी गांव में इस घटना की सूचना के बाद कल देर शाम ही पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा और तीनों के शव अपने कब्जे में ले लिए। निवाड़ी गांव में तेज हवाओं और बारिश के बीच बिजली गिरी।
  • शाजापुर जिले में एक व्यक्ति की कच्चे मकान की छत गिरने के कारण मौत हो गयी। सीहोर जिले में पेड़ गिरने के कारण उसमें दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गयी।
  • धार जिले के कानवन, कुछी और ढही में क्रमश: एक एक यानी कुल तीन लोगों की मौत बिजली गिरने के कारण हुयी।
  • इसके अलावा बिजली गिरने के कारण ही उज्जैन, खरगोन और रतलाम जिले में दो दो तथा अलीराजपुर, राजगढ़, छिंदवाड़ा और श्योपुर जिले में एक एक व्यक्ति की मौत हुई।

 

अप्रैल के पहले पखवाड़े में ही 42 पार हो गया था तापमान 

भोपाल में बताया कि संबंधित जिलों में प्रशासनिक अमला बुधवार को सुबह प्रभावित गांवों में भेजा गया और मृतकों के बारे में अधिकृत जानकारी एकत्रित की गयी है। प्रदेश में इस बार अप्रैल से ही भीषण गर्मी पड़ रही है। तापमान अधिकांश स्थानों पर 42 डिग्री को भी पार गया था, लेकिन कल देर शाम अचानक तेज हवाओं के साथ बारिश होने के कारण अधिकतम और न्यूनतम तापमान में चार से लेकर छह डिग्री तक गिरावट दर्ज की गयी है।

 

देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्से में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण मौसम में इस तरह का बदलाव आना बताया जा रहा है। आने वाले एक दो दिनों में भी राज्य में कुछ स्थानों पर हवाओं के साथ बादल गरजने या हल्की बारिश होने की संभावना है। 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना