Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» 50 Paise Cess On Petrol And Diesel In The Name Of Roads

सड़कों के नाम पर पेट्रोल-डीजल पर 50 पैसे सेस लगाने की तैयारी

ढाई माह पहले पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने वाली मप्र सरकार इन पर 50 पैसे सेस लगाने की तैयारी कर रही है।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 03, 2018, 07:00 AM IST

  • सड़कों के नाम पर पेट्रोल-डीजल पर 50 पैसे सेस लगाने की तैयारी

    भोपाल.ढाई माह पहले पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने वाली मप्र सरकार इन पर 50 पैसे सेस लगाने की तैयारी कर रही है। बुधवार को कैबिनेट बैठक में यह प्रस्ताव लाया जा रहा है। मंजूरी मिलती है तो पेट्रोल-डीजल पर 50 पैसे प्रति लीटर सेस लिया जाएगा। इससे हर साल 200 करोड़ रुपए मिलेंगे। सरकार का तर्क है कि इस राशि का इस्तेमाल सड़कों के निर्माण के लिए किया जाएगा। बता दें कि कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री ने पीडब्ल्यूडी की बैठक में कहा था कि विधायक मेरे पास आकर रोते हैं। उनकी मांग के अनुसार कुछ सड़कें तो बनाई जाएं। इस पर विभाग ने दो हजार करोड़ रुपए की जरूरत बताई थी। सरकार को उम्मीद है कि पेट्रोल-डीजल पर ही सेस लगाकर पैसा जुटाया जा सकता है।

    15 दिन में 1.09 रुपए प्रति लीटर बढ़ गए पेट्रोल के दाम

    - साल के आखिरी महीने में दूसरा पखवाड़ा कीमतों की वृद्धि की शुरुआत का रहा। 14 दिसंबर को पेट्रोल की कीमत शहर में 73.77 रुपए थी, 15 दिसंबर को तीन पैसे बढ़ गए। इसके बाद 9 दिन में एक लीटर पर 50 पैसे बढ़ गए। मंगलवार तक कीमत 74.86 रुपए प्रति लीटर पहुंच गई। इस तरह 14 दिन में वैट 3 रुपए कम करने के बाद जो कीमत थी, पेट्रोल उससे ज्यादा पर पहुंच गया।

    अभी पेट्रोल पर 4 रु. अतिरिक्त कर
    - 13 अक्टूबर 2017 को ही केंद्र सरकार के आग्रह पर मप्र सरकार ने डीजल पर 5 फीसदी और पेट्रोल पर 3 प्रतिशत वैट घटाया था। मप्र सरकार पेट्रोल पर अतिरिक्त कर भी ले रही है। यह वर्तमान में 4 रुपए प्रति लीटर है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 50 Paise Cess On Petrol And Diesel In The Name Of Roads
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×