--Advertisement--

5वीं और 7वीं के बच्चों से दिला रहे थे 8वीं की परीक्षा, बोर्ड पर लिखा था हर सवाल का जवाब

मध्यप्रदेश के दो गांव में परीक्षा के नाम चल रहे फर्जीवाड़े का पर्दाफाश हुआ है।

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 05:20 AM IST
शिक्षक बोर्ड पर लिखकर अंग्रेजी के पेपर में आए सवाल के जवाब बता रहे थे। शिक्षक बोर्ड पर लिखकर अंग्रेजी के पेपर में आए सवाल के जवाब बता रहे थे।

सुसनेर (आगर-मालवा). मध्यप्रदेश के दो गांव में परीक्षा के नाम चल रहे फर्जीवाड़े का पर्दाफाश हुआ है। एजुकेशन डिपार्टमेंट के फ्लाइंग स्कावड ने रुपए लेकर बिना परीक्षा में बैठ पास कराने बड़ा फर्जीबाड़ा पकड़ा। हद तो तब हो गई जब एक गांव में 5वीं, 7वीं, और 8वीं के बच्चों से इंग्लिश का पेपर सॉल्व कराया जा रहा था। यहां का है मामला..

- एमपी के सुसनेर के मालनवासा और मेहतपुर गांव के दो स्कूल में शिक्षा डिपार्टमेंट की फ्लाइंग स्क्वॉड ने बुधवार को रुपए लेकर बिना परीक्षा में बैठे पास कराने का बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ा।

- मालनवासा में जहां 5वीं व 7वीं के बच्चों से 8वीं का अंग्रेजी का पर्चा हल कराया जा रहा था।

- हर सवाल का जवाब शिक्षक बोर्ड पर लिखकर बता रहे थे। यहां बच्चों की संख्या 18 है, उनमें से 11 परीक्षा दे रहे थे।4 ऐसे थे जो 5वीं व 7वीं के थे।

- वहीं मेहतपुर के स्कूल में एक कक्षा में 10 में से उपस्थित 5 बच्चे गाइडों और किताबों में टीपकर अंग्रेजी का पेपर हल कर रहे थे।

- वहीं दूसरे कक्ष में केंद्राध्यक्ष बाबूसिंह कनेड़िया और पर्यवेक्षक काशीराम मेहर चाय पी रहे थे।

- दोनों स्कूलों में परीक्षार्थियों की कॉपी में रोल नंबर नहीं लिखे थे। केंद्राध्यक्ष और पर्यवेक्षक के हस्ताक्षर भी नहीं थे।

- जिन बच्चों को पेपर देना था, वो स्कूल में ही नहीं थे। जानकारी लगते ही भास्कर टीम और फ्लाइंग स्क्वॉड एकसाथ पहुंचे, तो फर्जी परीक्षार्थी भाग निकले।

- आशंका व्यक्त की जा रही है कि जब शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत 8वीं तक के बच्चों को फेल ही नहीं किया जा सकता है, तो नकल क्यों करवाई जा रही थी? वो भी 5वीं-7वीं के बच्चों से।

सस्पेंड किया, अब आगे कार्रवाई होगी
- मालनवासा में विकाखंड अधिकारी ने केंद्राध्यक्ष सुजार सिंह कटारा और पर्यवेक्षक मनोहर लाल मेहर को सस्पेंड करने और मेहतपुर में नकल के मामले में केंद्राध्यक्ष बालूसिंह कनेड़ी और पर्यवेक्षक काशीराम मेहर की दो-दो वेतनवृद्धि रोके जाने का पत्र जिला शिक्षा अधिकारी आगर को बुधवार की शाम को भेज दिया है। इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। - शांताराम गुप्ता, बीईओ सुसनेर

चीटिंग के दौरान उपयोग में लाई गई गाइड दिखाते स्टूडेंट। चीटिंग के दौरान उपयोग में लाई गई गाइड दिखाते स्टूडेंट।
X
शिक्षक बोर्ड पर लिखकर अंग्रेजी के पेपर में आए सवाल के जवाब बता रहे थे।शिक्षक बोर्ड पर लिखकर अंग्रेजी के पेपर में आए सवाल के जवाब बता रहे थे।
चीटिंग के दौरान उपयोग में लाई गई गाइड दिखाते स्टूडेंट।चीटिंग के दौरान उपयोग में लाई गई गाइड दिखाते स्टूडेंट।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..