--Advertisement--

शादी के बाद जेवर ले भागी थी लुटेरी दुल्हन, अब चाची के साथ पकड़ाई

शादी करने के बाद किसान को ठगने वाली दुल्हन को गिरफ्तार कर लिया है।

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 01:48 AM IST
महिला ने शादी करने के बहाने किसान से 70 हजार रुपए नकद और जेवर लेकर फरार हो गई थी। महिला ने शादी करने के बहाने किसान से 70 हजार रुपए नकद और जेवर लेकर फरार हो गई थी।

भोपाल. शादी करने के बाद किसान को ठगने वाली दुल्हन को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले ये महिला अपने प्रेमी के साथ एक और शख्स को ठग चुकी है। मामले का खुलासा क्राइम ब्रांच ने किया है। पुलिस ने इस मामले में महिला सहित उसकी चाची को भी गिरफ्तार किया है। वहीं इस पूरे खेल का मास्टर माइंड और महिला का प्रेमी फरार चल रहा है। क्या है मामला..

- दरअसल, महिला ने शादी करने के बाद किसान से 70 हजार रुपए नकद और जेवर लेकर फरार हो गई थी। इससे पहले भी वो अपने प्रेमी के साथ इसी तरह दुल्हन बनकर धार में एक युवक को ठग चुकी थी।

इस मामले के खुलासा तब हुआ जब महिला को पुलिस के हत्थे चढ़ी। महिला का नाम माही है। पुलिस ने माही के साथ उसकी तथाकथित चाची को गिरफ्तार कर लिया, जबकि इस पूरे खेल का मास्टर माइंड प्रेमी राजेंद्र उर्फ सचिन अब भी फरार है।

- धार के रहने वाले 28 साल जीवन की शिकायत पर गौतम नगर पुलिस ने क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर माही और उसकी साथी शीला को शनिवार देर रात टीलाजमालपुरा इलाके से गिरफ्तार कर लिया। हालांकि गिरोह का सरगना राजेंद्र फरार हो गया।

- टीआई के अनुसार पूछताछ में माही ने बताया कि राजेंद्र उसका प्रेमी है। वही दूल्हे को फंसाने से लेकर शादी कराने तक के पूरे काम करता है। उसे बस दुल्हन बनकर शिकार के पास जाना होता था। इसके बाद किसी तरह बहाना बनाकर दूल्हे को दो दिन तक दूर रखना होता था।

- शादी होने के तीसरे दिन राजेंद्र दूल्हे को फोन करके कार्यक्रम आयोजित करने के नाम पर भोपाल बुला लेता था। वह शादी कराने के नाम पर दूल्हे से नगद रुपए भी लेता था। इसके अलावा दूल्हे से मिले जेवर, कीमती कपड़े और अन्य सामान साथ लाने की जिम्मेदारी मेरी होती थी। माही और शीला आष्टा की रहने वाली हैं। माही आठवीं तक पढ़ी हुई है।

ऐसे फंसाया था जीवन को

- जीवन ने पुलिस को बताया चार-पांच महीने पहले धार में एक चाय की दुकान पर एक पंडित जी से मुलाकात हुई थी। शादी की बात होने पर उन्होंने राजेंद्र उर्फ सचिन का नंबर दिया था।

- उसने शादी के लिए दुल्हन तलाशने पर एक लाख रुपए कमीशन मांगा था। बाद में सौदा 70 हजार रुपए में तय हुआ था।

- उसने अपनी बेटी बताकर एक युवती से मिलवाया था, लेकिन युवती मुझे पंसद नहीं आई। उसके बाद उसने माही को भतीजी बताकर मिलवाया।

- हमने शादी के लिए हामी भर दी। गत 31 अक्टूबर 2017 में वे माही को लेकर धार आए। हमने मंदिर में शादी कर ली।

आरोपी महिला। आरोपी महिला।
पुलिस ने महिला की चाची को भी गिरफ्त में लिया है। पुलिस ने महिला की चाची को भी गिरफ्त में लिया है।