--Advertisement--

ओवरटेक करते कार पेड़ से टकराई, बच्ची समेत एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत

सड़क हादसे में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 07:22 AM IST

होशियारपुर (अमृतसर). रविवार को दोपहर 2:30 बजे गांव जाजा स्थित अपने जठेरों में माथा टेककर वापस लौट रहे एक परिवार की कार ओवरटेक करते समय बेकाबू होकर गांव बूरे जट्टां, टांडा रोड पर पेड़ से जा टकराई, जिसमें एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के बाद आसपास के लोगों एवं पुलिस ने तुरंत मौके पहुंच घायलों को सिविल अस्पताल पहुंचाया।

- मृतकों की पहचान गुरदीप सिंह सैनी (38), पत्नी कुलदीप कौर (35), बेटी इशिका (4) और गुरदीप का चचेरा भाई अमरीक सिंह (55) (सभी निवासी बस्सी गुलाम हुसैन) के रूप में हुई है।

- सिविल अस्पताल में मृतक के परिजनों ने बताया कि गुरदीप, कुलदीप और अमरीक सिंह की तो मौके पर ही मौत हो गई जबकि उपचार के दौरान गुरदीप की बेटी इशिका ने भी दम तोड़ दिया।

- अन्य घायलों की स्थिति भी गंभीर है। जिसे देखते हुए डाक्टरों ने गनिका एवं मन्नत को किसी निजी अस्पताल में रेफर किया है।

मम्मी-पापा और छोटी बहन की मौत के बाद अकेली बची गनिका

- गांव के सरपंच प्रेम भारद्वाज ने बताया कि मृतक अमरीक सिंह और गुरदीप सिंह के एक-एक भाई हैं, जो विदेश में रहते हैं। अमरीक के पिता चन्नण सिंह अधरंग से पीड़ित हैं उनकी देखभाल करने वाला अब कोई नहीं है। इसी तरह गुरदीप की मां भी बीमार रहती हैं। अमरीक गांव में खेती और दुकान चलाता था, जबकि गुरदीप के पास पोल्ट्री फार्म था। सरपंच ने कहा कि यह बहुत दुखद घटना है।

- हादसे में गंभीर जख्मी गनिका के पिता गुरदीप सिंह, माता कुलदीप कौर और छोटी बहन इशिका की मौत हो गई। गनिका पीछे परिवार में अकेली ही बची है। जबकि मामा हरपाल ने बताया कि गनिका के स्कूल में दो दिन पहले ही छोटी बहन इशिका का नर्सरी क्लास में दाखिला करवाया गया था।


विदेश से भाई के आने पर होगा अंतिम संस्कार
हादसे के बाद पूरा गांव शोक में डूबा हुआ है। मृतकों के भाई के विदेश से अाने पर अंतिम संस्कार किया जाएगा। हादसे की खबर मिलते ही भाजपा नेता संजीव तलवाड़, गांव बस्सी गुलाम हुसैन के सरपंच प्रेम भारद्वाज, मृतकों के रिश्तेदार एवं अन्य गांव निवासी सिविल अस्पताल पहुंच गए थे। पुलिस ने 174 की कार्यवाही करते हुए शवों को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है।