Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» CM Looks After Scindia Union Minister On Stage And 8 Of The State

सिंधिया के बाद सीएम ने दिखाई ताकत, मंच पर 1 केंद्रीय मंत्री और प्रदेश के 8 मंत्री

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को दोपहर 1.50 बजे मुंगावली तहसील कार्यालय पहुंचे।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 07, 2018, 08:08 AM IST

  • सिंधिया के बाद सीएम ने दिखाई ताकत, मंच पर 1 केंद्रीय मंत्री और प्रदेश के 8 मंत्री

    मुंगावली (भोपाल) .मुंगावली उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी बाईसाहब यादव का नामांकन पत्र जमा कराने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को दोपहर 1.50 बजे मुंगावली तहसील कार्यालय पहुंचे। कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित पार्टी के दिग्गज नेताओं के पहुंचने बाद भाजपा ने भी अपने प्रत्याशी का नामांकन जमा कराने में ताकत दिखाई। पर्चा जमा करने के बाद हुई सभा में प्रदेश सरकार के 8 मंत्रियों सहित भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहे। 7 दिन पहले कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए डाॅ. केपी सिंह ने स्वागत भाषण दिया तो भाजपा से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद फिर से सुलह की बात कह चुके मलकीत सिंह मंच से नदारद रहे।


    - सभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर विकास में रोड़ा बनने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने सूखा राहत का 45-50 करोड़ रुपए बंटने की तैयारी की थी लेकिन कांग्रेस को यह रास नहीं आया। इसलिए आचार संहिता रहने तक राशि का वितरण स्थगित करना पड़ा।

    - चौहान ने कहा कि कांग्रेस क्षेत्र के विकास में बाधक रही है। कांग्रेस की सोच क्षेत्र के पिछड़ेपन में रखकर वोट बैंक बनाए रखना है। इसलिए लगातार क्षेत्र की उपेक्षा की गयी है। हम विकास करना चाहते हैं तो कांग्रेस रोड़े अटका देती है।

    बाईसाहब के साथ शिवराज सिंह भी होंगे मुंगावली के विधायक
    - मुख्यमंत्री चौहान ने सभा में कहा कि बाईसाहब यादव को जिताकर क्षेत्र की जनता की सेवा के लिए दो विधायक होंगे।

    - पहली विधायक बाईसाहब यादव और दूसरा पूरक के रूप में शिवराजसिंह चौहान होगा।

    - सभा को डा. केपी यादव, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने भी संबोधित किया।

    भाजपा प्रदेशाध्यक्ष का हास्यास्पद भाषण- घोड़ों को घास नहीं, गधे खा रहे हैं च्यवनप्राश
    - भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार चौहान ने भाजपा में आए वरिष्ठ कांग्रेस नेता केपी सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि कांग्रेस में घोड़ों को घास नहीं मिल रही हैं और वहां गधे च्यवनप्राश खा रहे हैं।

    - चौहान ने विधायक गोपीलाल जाटव को खड़ा कर कहा कि इनके पीछे तो कांग्रेस हाथ धोकर पड़ी है। कभी इनके द्वारा लोकार्पित ट्रामा सेंटर को गंगाजल से धुलवाती है तो चुनाव आयोग में शिकायत कर इनको मंत्री बनने से रुकवाती है। प्रत्याशी बाईसाहब ने भी संबोधित किया।

    रोड शो में मलकीत कुछ देर नजर तो आए पर मंच से रहे नदारद
    - बाईसाहब यादव का रिटर्निंग ऑफिसर के समक्ष नामांकन जमा करवाने अंदर पांच लोग गए।

    - इनमें प्रत्याशी श्रीमती यादव के अलावा मुख्यमंत्री, प्रदेशाध्यक्ष, प्रभारी मंत्री सहित केपी यादव शामिल रहे।

    - वहीं बाहर कुछ देर के लिए मलकीत सिंह नजर आए लेकिन मंच से वे नदारद रहे।

    प्रदेशाध्यक्ष, केंद्रीय, प्रदेश सरकार के मंत्री भी रहे मौजूद
    - इस दौरान केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, चुनाव प्रभारी अरविंद भदौरिया, गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह, लोकनिर्माण मंत्री रामपाल सिंह, कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, प्रभारी मंत्री जयभान सिंह पवैया, नर्मदा घाटी मंत्री लाल सिंह आर्य, मंत्री ललिता यादव, राज्य मंत्री नारायण सिंह कुशवाह और राज्यमंत्री जालम सिंह सहित कई बड़े नेता मंच पर मौजूद रहे।

    कांग्रेस से भाजपा में आए मुस्लिमों ने सरोपा भेंट किया
    - मुख्यमंत्री की सभा में कांग्रेस की विंग एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष विवेक यादव अपने समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल हुए। अन्य समाजों के लोगों ने भाजपा की सदस्यता ली। मंच पर मुस्लिम समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री को सरोपा पहनकर स्वागत किया।


    खुली जीप में डेढ़ घंटे तक किया रोड शो
    - मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुली जीप में भाजपा प्रत्याशी के साथ रोड शो किया। तहसील के सामने सभा स्थल से रोड शो हेलीपेड तक डेढ़ घंटे तक चला। रोड शो में हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए। जीप में दोनों नए मंत्री भी साथ रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×