--Advertisement--

बच्चे न होने के गम में शराबी हो गया था ये कान्स्टेबल, फिर ले लिया ये स्टेप

मध्यप्रदेश के सागर जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में पदस्थ एक सिपाही ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

Danik Bhaskar | Dec 29, 2017, 05:35 PM IST
डिजाइनर लड़के नीरज जैन ने पाक दूतावास को डाक से भेजे दो जोड़ी जूते। डिजाइनर लड़के नीरज जैन ने पाक दूतावास को डाक से भेजे दो जोड़ी जूते।

भोपाल। पाकिस्तान की हरकत से नाराज अशोकनगर जिले के एक युवा ने विरोध का अनोखा तरीका निकाला है। उसने देशभक्ति दिखाते हुए दो जोड़ी जूते पाकिस्तानी दूतावास को कुरियर से भेजे हैं। असल में, युवा पाकिस्तान की शर्मनाक हरकत से काफी नाराज था। पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी को जाधव से मिलने दिया, लेकिन बिंदी और जूते उतरवा लिए। इंटीरियर डिजाइनर नीरज जैन ने कहा कि उतरवाने के बाद मां और पत्नी को जूते वापस तक नहीं किए। यह बहुत बड़ा अपमान है। इसका हम कड़ा विरोध करते हैं।

विरोध में भेजेंगे 100 जोड़ी जूते

- पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी से मुलाकात कराते समय जूते, बिंदी निकलवाए थे। इस शर्मनाक हरकत का देशभर में विरोध हो रहा है, लेकिन अशोकनगर के एक युवा ने विरोध दर्ज कराने का अलग ही रास्ता निकाला है। उसने पाकिस्तान के दूतावास पर दो जोड़ी जूते कुरियर से भेजे हैं। साथ ही शनिवार को 100 जोड़ी जूते भी डाक से भेजेंगे।

महिलाओं को अपमानित किया गया

- इंटीरियर डिजाइनर नीरज जैन ने बताया कि जाधव की गिरफ्तारी के बाद पहली बार उनकी मां और पत्नी को मिलने दिया गया, उसमें भी ऐसी हरकत पाकिस्तान ने की जो शर्मनाक है। मां और पत्नी की बिंदी निकलवा ली और जूते उतरवा लिए गए। हैरानी की बात तो तब हो गई जब उनके जूते वापस ही नहीं किए। महिलाओं को इस तरह अपमानित करना गलत है।

जूते की भाषा ही समझता है पाक

पाकिस्तान की हरकत से समझ में आ रहा है कि उसे जूते की ही भाषा समझ आती है। इसलिए उसके लिए उसकी इस हरकत के कारण ही दो जोड़ी जूते पाकिस्तान दूतावास को भेज दिए। उनके विरोध के इस नए अंदाज को लेकर अब लोग भी दूतावास पर जूते भेज रहे हैं। 100 जोड़ी जूते शनिवार को लोग डाक से भेजेंगे। शनिवार को सामूहिक रूप से लोग जूते एकत्रित कर डाक से पाकिस्तान दूतावास पर भेजेंगे।

उसने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी का अपमान करने पर विरोध जताया है। उसने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी का अपमान करने पर विरोध जताया है।
अशोक नगर निवासी नीरज पेश से इंटीरियर डिजाइनर हैं। अशोक नगर निवासी नीरज पेश से इंटीरियर डिजाइनर हैं।