Home | Madhya Pradesh | Bhopal | News | Fake calls to municipal fire control room

दिल में आग लगी है, फायर ब्रिगेड भेज दीजिए...नगर निगम को रोज आते हैं ऐसे फर्जी कॉल

फायरकर्मी आसिम खान ने बताया कि मोबाइल नंबर 7746859460 से दिनभर कॉल आता है।

Bhaskar News| Last Modified - Mar 15, 2018, 06:44 AM IST

Fake calls to municipal fire control room
दिल में आग लगी है, फायर ब्रिगेड भेज दीजिए...नगर निगम को रोज आते हैं ऐसे फर्जी कॉल

भोपाल.   हैलो, आग लग गई है। कहां लगी है? मेरे दिल में। क्या मतलब? सच बोल रही हूं, मेरे दिल में आग लगी है, आप जल्दी से फायर ब्रिगेड भेज दीजिए। यह बातचीत नगर निगम के फायर कंट्रोल पर आने वाले एक फोन कॉल की है। कंट्रोल रूम के नंबरों पर कभी मोबाइल रिचार्ज और गैस सिलंेडर बुकिंग समेत अन्य कार्यों के लिए दिनभर में 150 से ज्यादा इसी तरह के फर्जी कॉल आते हैं।

 

वर्षों पुरानी है ये समस्या

 

यह समस्या वर्षों पुरानी है, लेकिन अब गर्मी का सीजन आ गया है। ऐसे में शहर और आसपास के इलाकों में आगजनी की वारदातों की संख्या बढ़ जाती है। ऐसे में कंट्राेल रूम की लाइन व्यस्त रखकर ऐसे लाेग जरूरतमंदों को समय पर मदद पहुंचाने में बाधक साबित होते हैं।

 

दिनभर आते हैं कॉल...

 

फायरकर्मी आसिम खान ने बताया कि मोबाइल नंबर 7746859460 से दिनभर कॉल आता है। सुबह, दोपहर, शाम और रात के वक्त में एक दिन में 15 से अधिक बार कॉल करता है। यह नंबर महीनों से परेशान कर रहा है। फोन लगाकर छोड़ देता है, बात नहीं करता है।

 

पिछले साल मार्च से जून तक 2284 घटनाएं आग लगने की हुई 

 

हॉस्टल, हॉस्पिटल से आते हैं सबसे ज्यादा फर्जी कॉल : फर्जी कॉल दोपहर 12 से शाम चार के बीच और रात में 10 बजे के बाद सबसे ज्यादा आते हैं।  काॅल करने वालों में बच्चे और महिलाएं ज्यादा होती हैं। हॉस्टल और हॉस्पिटल से ज्यादा महिलाएं कॉल करती हैं। यही नहीं, विदिशा, सीहोर, बैरसिया समेत आसपास के इलाकों से भी कॉल आते हैं।

 

ऐसे हल हो सकती है वर्षों पुरानी समस्या

 

शिफ्ट इंचार्ज रियाजुद्दीन ने बताया कि कंट्रोल रूम की ओर से करीब पांच महीने पहले ऐसे 150 नंबरों की सूची निगम अफसरों सहित पुलिस को देकर कार्रवाई की मांग की थी। लेकिन, पुलिस अधिकारियों ने यह तर्क देकर कार्रवाई नहीं की कि उनके डायल 100 पर भी ऐसे कॉल आते हैं। इस समस्या की असल वजह जिम्मेदारों का यही रवैया है। अगर जिम्मेदार इसे गंभीरता से लें और फर्जी कॉल करने वालों को कड़ी सजा दिलाएं तो यह समस्या पूरी तरह से हल हो सकती है।

 

 

ये हैं निगम के आपातकालीन नंबर 101, 0755-2542222 और 0755-2701401

 

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now