--Advertisement--

आग के बीच फंसे थे एक ही परिवार के 4 लोग, पड़ोसी ने रस्सी के सहारे बचाया

शहर में रात तीन मंजिला मकान में आग लग गई। ये आग ग्राउंड फ्लोर पर मकान मलिक की गोदाम में लगी।

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 03:25 AM IST
तीन मंजिला मकान में आग लग गई। तीन मंजिला मकान में आग लग गई।

अशोकनगर (भोपाल). शहर में रात एक तीन मंजिला मकान में आग लग गई। ग्राउंड फ्लोर पर मकान मालिक की गोदाम में लगी आग ने कुछ ही देर में पूरा मकान चपेट में ले लिया। इस दौरान तीसरी मंजिल पर लगी मे आग में एक ही परिवार के 4 लोग फंस गए। आग की तेज में लपटों के बीच निकलने का रास्ता तक नहीं बचा। ऐसे में पड़ोस में रहने वाले पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर झूले की साड़ी में बांधकर परिवार को बचाया। झूले की रस्सी डालकर ऐसे बचाया...

- दरअसल, शहर के बायपास रोड पर बुधवार-गुरुवार की रात एफसीआई के पीछे बनी अक्षरधाम कॉलोनी में एक तीन मंजिला मकान में आग लग गई।

- ग्राउंड फ्लोर पर मकान मालिक की गोदाम में लगी आग ने कुछ ही देर में पूरा मकान चपेट में ले लिया। तीन मंजिल पर मकान मालिक को आग की तेज लपटों के बीच से निकलने का रास्ता तक नहीं बचा।

- ऐसे में पड़ोस में रहने वाले पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर मकान के पिछली तरफ से एक रस्सी का झूला साड़ी में बांधकर तीसरी मंजिल तक पहुंचाया। जब इस झूले से परिवार वाले और बच्चे उतरने की हिम्मत नहीं जुटा सके तो पुलिसकर्मी खुद चढ़ा और 6 साल की बच्ची को नीचे उतार लाया।

- पुलिसकर्मी की हिम्मत देखकर फिर परिवार वाले भी उठती लपटों से नीचे उतरे और अपनी जान बचाई। आग लगने की घटना में करीब 50 लाख रुपए से अधिक राशि के नुकसान की संभावना जताई जा रही है।


पुलिसकर्मी की पहल से और लाेग भी बचाने आगे आए

- झूला डालने के बाद आग की उठती लपटों के बीच ऊपर महिला और दो छोटे बच्चों के साथ इमरत लाल नीचे उतरने की हिम्मत न जुटा सके।

- इस पर पुलिसकर्मी अतेन्द्र यादव झूले से ऊपर चढ़ा और 6 साल की बालिका को एक हाथ से गोद में लेकर उतरने लगा।

- जब नीचे पुलिसकर्मी पहुंच गया तो इमरतलाल ने पोते को गोद में लिया और बहु के साथ नीचे उतरा। इस दौरान इमरत लाल का चेहरा झुलस गया ।

किराएदार कूदा पहले माले से पैर में फ्रैक्चर


- नीचे जहां आग की लपटें उठ रही थीं वहीं से निकलने का रास्ता था। ऐसे में पहले माले पर रहने वाले किराएदार आर यादव पहले अपना गद्दा नीचे फेंका, इसके बाद स्वयं उस पर कूद गए। एक मंजिल से कूदने पर उनके पैर में फ्रैक्चर हो गया। वहीं पीछे की तरफ रहने वाले किराएदार ने पहले कूलर लटकाया फिर उसके सहारे नीचे उतरे।

उतरने से पहले सिलेंडर किया बंद

- इस की घटना के बीच भी ऊपर मौजूद इमरत लाल ने घर में रखे सभी सिलेंडर को बंद कर पीछे गैलरी में धकेल दिया। वहीं जो सिलेंडर गैस में लगा था उसको भी निकाल लिया।

मकान के पिछले हिस्से से निकले
- करीब 11 एजेंसियों का काम करने वाले मनोज प्रजापति का एफसीआई के पीछे मकान है। बुधवार रात जब मनोज इंदौर गए थे तो उनके मकान में दो किराएदारों के अलावा तीसरी मंजिल पर पत्नी ज्योति, पिता इमरतलाल प्रजापति 9 साल का बेटा मयंक और 6 साल की बेटी थी।

- मनोज के पिता ने बताया कि करीब ढाई बजे तक उनकी नींद खुली तो चारों तरफ धुंआ था और ऊपर की तरफ आग की लपटें उठ रही थीं। उन्होंने जिस कमरे में बहु और पोते सो रहे थे उनको मकान के पिछली तरफ ले आए।

- नीचे से उठ रहीं आग की लपटों को देखकर पड़ोस में रहने वाले पुलिसकर्मी अतेन्द्र यादव ने अपने मकान मालिक के यहां से रस्सी का झूला लेकर मकान के पिछली साइड तीसरी मंजिल पर खड़े इमरतलाल को बांधने के लिए कहा।

- इसके बाद झूलें से चारों लोगों ने उतरकर अपनी जान बचाई। पड़ोसी विनोद तिवारी, अनिल रघुवंशी, रवि, दीपक जाटव, बलराम शर्मा आदि की भी बचाव कार्य में विशेष भूमिका रही।

आग में एक ही परिवार के 4 लोग फंस गए। आग में एक ही परिवार के 4 लोग फंस गए।
ग्राउंड फ्लोर पर गोदाम में लगभ आग ने चपेट में ले लिया था। ग्राउंड फ्लोर पर गोदाम में लगभ आग ने चपेट में ले लिया था।
पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर झूले की साड़ी में बांधकर परिवार को बचाया। पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर झूले की साड़ी में बांधकर परिवार को बचाया।
जिस बिल्डिंग में लगी आग। जिस बिल्डिंग में लगी आग।
रस्सी की सीढ़ी। रस्सी की सीढ़ी।
X
तीन मंजिला मकान में आग लग गई।तीन मंजिला मकान में आग लग गई।
आग में एक ही परिवार के 4 लोग फंस गए।आग में एक ही परिवार के 4 लोग फंस गए।
ग्राउंड फ्लोर पर गोदाम में लगभ आग ने चपेट में ले लिया था।ग्राउंड फ्लोर पर गोदाम में लगभ आग ने चपेट में ले लिया था।
पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर झूले की साड़ी में बांधकर परिवार को बचाया।पुलिसकर्मी ने हिम्मत दिखाकर झूले की साड़ी में बांधकर परिवार को बचाया।
जिस बिल्डिंग में लगी आग।जिस बिल्डिंग में लगी आग।
रस्सी की सीढ़ी।रस्सी की सीढ़ी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..