--Advertisement--

झंडा यात्रा के दौरान दो पक्ष भिड़े, मकान-दुकान, वाहनों में आगजनी और तोड़फोड़

जिला मुख्यालय से 4 किमी दूर सैकड़ाखेड़ी गांव में झंडा यात्रा की तैयारियों के दौरान देर शाम दो पक्ष भिड़ गए।

Danik Bhaskar | Jan 03, 2018, 07:12 AM IST

सीहोर. जिला मुख्यालय से 4 किमी दूर सैकड़ाखेड़ी गांव में झंडा यात्रा की तैयारियों के दौरान देर शाम दो पक्ष भिड़ गए। एक पक्ष ने लाठियों से हमला करने के साथ ही पथराव कर दिया। इसमें 5 लोग घायल हो गए। दो को भोपाल रेफर कर दिया गया। इसी बीच अराजक तत्वाें ने गांव में तीन मकानों और एक बाइक में आग लगा दी। कुछ देर बाद हिंसा सीहोर शहर तक पहुंच गई। यहां उपद्रवियों ने 1 ट्रक, 1 टैक्सी और चाणक्यपुरी में 2 वाहनों में अाग लगा दी। इंदौर नाके पर तीन दुकानों में आगजनी हुई। जल्दी बंद हो गए बाजार, भोपाल से पहुंचा फोर्स

- घटना के बाद सीहोर शहर की दुकानें जल्द ही बंद हो गईं। सूचना मिलते ही आईजी जयदीप प्रसाद भी पहुंचे। यहां सीहोर जिले के अलावा भोपाल से भी फोर्स भेजा गया है।

धर्मगुरुओं की अपील- शांति सद् भाव बनाए रखें

हमारा शहर गंगा जमुनी तहजीब का

- पंडित पृथ्वी बल्लभ दुबे ने सांप्रदायिक तनाव से बचने की बात कही। उन्होंने कहा कि दंगों से समाज को नुकसान होता है। सभी को मिलजुलकर सद्भावना के साथ रहना चाहिए।
काजी हाफिज युसुफ अंसारी ने पूरे शहर की आवाम से अमन चैन से रहने की अपील की।

- उन्होंने कहा कि हमारा शहर गंगा-जमुनी तहजीब का है। अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। सिख धर्म गुरु सिंह सभा के ज्ञानी जसविंदर सिंह का कहना है कि सभी लोग मिलजुल कर रहें। कोई भी धर्म अापस में लड़ने की बात नहीं करता। अफवाहों पर ध्यान न दें।

सोशल मीडिया पर डाले जा रहे झूठे वीडियो

- एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा का कहना है कि शहर से बाहर सैकड़ाखेड़ी गांव में हुए विवाद के बाद शहर में स्थिति नियंत्रण में है। सोशल मीडिया पर कुछ झूठे फोटो और वीडियो डाले जा रहे हैं। इन पर विश्वास न करें।
- कलेक्टर तरूण पिथौड़े का कहना है कि अफवाहों पर ध्यान न दें। शहर के सभी नागरिक सद्भावना के साथ रहना चाहते हैं। कुछ असामाजिक तत्व शहर की शांति भंग करना चाहते हैं। इन पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। शहर में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

रात 10 बजे पूरा बाजार बंद
- साम्प्रदायिक तनाव के बाद नगर की सड़कों पर रात 10 बजे ही सन्नाटा पसर गया। एसपी आफिस के पास भोपाली फाटक पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। चौपाल सागर से लेकर कोतवाली चौराहे तक रात 11.30 बजे पुलिस तैनात हो गई।

भास्कर विचार

- सांप्रदायिक सौहार्द और शांति व्यवस्था बनाए रखना हर नागरिक की जिम्मेदारी है। भास्कर शहर के लोगों से अपील करता है कि अफवाहों पर ध्यान न दें। मिलजुलकर रहें, अफवाहों फैलाने वालों के मंसूबे कामयाब न होने दें। शांति से ही विकास संभव है।