Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Girl Body Was Found Hanging,Now PM Report Revealed Something New

क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा

रेलवे ग्राउंड की क्रिकेट पिच पर 15 फीट ऊंचे पोल पर लड़की के फांसी लगाने वाले मामले में नया खुलासा हुआ है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 27, 2017, 12:29 AM IST

  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    क्रिकेट पिच पर 15 फीट ऊंचे पोल पर लड़की लटकी मिली थी।

    भोपाल.राजधानी के रेलवे ग्राउंड की क्रिकेट पिच पर 15 फीट ऊंचे पोल पर लड़की के फांसी लगाने वाले मामले में नया खुलासा हुआ है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लड़की का प्रेग्नेंट होने की बात सामने आई है। हालांकि जीआरपी भोपाल ने इस मामले से जुड़ी कोई भी जानकारी देने से मना कर दिया है। पुलिस ने उसकी उम्र 23 साल बताई जबकि माहेर के रिकॉर्ड के अनुसार वह माइनर थी।क्या है मामला...

    - लड़की सिद्दीगंज, इच्छावर की बताई जा रही है। वो पुणे के माहेर संस्था से भागी थी।

    - पुलिस दो दिन बाद भी न तो लड़की के परिवार वालों का पता लगा पाई है और न ही मौत के कारणों का खुलासा हुआ है।

    - जीआरपी भोपाल को सोमवार सुबह साढ़े 6 बजे रेलवे ग्राउंड की क्रिकेट पिच के 15 फीट ऊंचे पोल पर फांसी पर एक लड़की लटकी मिली थी।

    - मौके से बरामद टूटे मोबाइल फोन से जीआरपी भोपाल को पुणे महाराष्ट्र की माहेर संस्था का नंबर मिला है।

    - वहां से लड़की की पहचान सिद्धीगंज इच्छावर के रूप में हुई। बताया गया है कि, अक्टूबर 2017 में माहेर संस्था से लापता हो गई थी। उसकी वहां के लोकल थाने में गुमशुदगी दर्ज थी।

    - उसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चला। पुलिस की एक टीम अब सिद्धीगंज में लड़की के परिवारो वालों का पता लगाने की कोशिश कर रही है। हालांकि परिवार के बारे में पुलिस को ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई थी।

    नेहरू नगर बालिका गृह से भेज दिया था

    - माहेर संस्था की अध्यक्ष हीराबेगम उल्ला ने दैनिक भास्कर को बताया कि मृतका 3 जून 2016 में संस्था में आई थी।

    - उसे उमरखवाड़ी शासकीय बालिका गृह ने दिया था। बच्ची ने उम्र 16 साल बताई थी। उसने कहा था कि माता-पिता नहीं है।

    - स्कूल जाने की इच्छा जताने के बाद उन्होंने स्कूल में एडमिशन दिला दिया। वह बहुत जिद्दी थी।

    - 7 फरवरी 2017 में संस्था से स्कूल जाने का कहकर गायब हो गई थी। हमने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

    - इसके बाद 7 जुलाई को भोपाल से बालिका गृह नेहरू नगर की टीम बच्ची को लेकर हमारे पास आई। उन्होंने उसका मेडिकल कराया था।

    - बच्ची को मुंबई चाइल्ड लाइन में पेश करवाया गया। उसकी इच्छा हमारे साथ रहने की थी इसलिए हमने उसे वापस रख लिया।

    मैंने अभी पूरी रिपोर्ट नहीं पढ़ी
    - टीआई जीआरपी हेमंत श्रीवास्तव के मुताबिक शार्ट पीएम में मौत फांसी लगाने से हुई है। जिससे यह सुसाइड का मामला है, लेकिन उन्होंने लड़की के प्रेग्नेंट होने के सवाल को टालते हुए कहा कि उन्होंने पूरी रिपोर्ट नहीं देखी है। यह तो वे सिर्फ डॉक्टरों से बातचीत के आधार पर बता रहे हैं।

  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    लड़की का प्रेग्नेंट होने की बात सामने आई है।
  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    लड़की सिद्दीगंज, इच्छावर की बताई जा रही है। वो पुणे के माहेर संस्था से भागी थी।
  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    मौके से बरामद टूटे मोबाइल फोन से जीआरपी भोपाल को पुणे महाराष्ट्र की माहेर संस्था का नंबर मिला है।
  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    अक्टूबर 2017 में माहेर संस्था से लापता हो गई थी।
  • क्रिकेट ग्राउंड में लटकी मिली थी लड़की की लाश, अब PM रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा
    +5और स्लाइड देखें
    7 फरवरी 2017 में संस्था से स्कूल जाने का कहकर गायब हो गई थी। हमने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Girl Body Was Found Hanging,Now PM Report Revealed Something New
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×