--Advertisement--

सहेलियों ने जबरन कराई थी फ्रेंडशीप, मां ने कहा- पहले भी की थी मर्डर की कोशिश

राजधानी के गौतम नगर थाने के अंतर्गत छेड़छाड़ से परेशान होकर 19 साल की बीकॉम की सेकेंड ईयर कि लड़की ने खुदकशी कर ली।

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 03:10 AM IST
कॉलेज गर्ल ने सुसाइड कर लिया था। कॉलेज गर्ल ने सुसाइड कर लिया था।

भोपाल. राजधानी के गौतम नगर थाने के अंतर्गत छेड़छाड़ से परेशान होकर 19 साल की बीकॉम की सेकेंड ईयर कि लड़की ने खुदकशी कर ली। अब इस मामले में नई बात निकलकर सामने आई है। मां का आरोप है कि आरोपी दानिश से लड़की की दोस्ती उसकी सहेलियों ने जबरन कराई थी। मिलने से मना करने पर वे ही मिलने के लिए दबाव बनाती थीं। वहीं लड़की की मां ने ने यह भी आरोप लगाया कि बेटी के फांसी लगाने के पहले दानिश ने उस पर गाड़ी चढ़ाकर उसे मारने की कोशिश की थी। उसके पैर पर चोटों के निशान भी थे। उसी से परेशान होकर उसने घर में आकर सुसाइड कर लिया था। ऑटो ड्राइवर है दानिश, स्कूल में लड़की का सीनियर था...

- जेपी नगर के रहने वाले 23 साल के दानिश अली पिता शाहिद अली ऑटो ड्राइवर है। उसने 11वीं तक पढ़ाई की है।

- पहले दानिश और लड़की एक ही स्कूल में पढ़ते थे। छात्रा जूनियर थी। आरोपी दो साल से उसके कॉन्टेक्ट में था। शनिवार दोपहर सहेलियों के कहने पर वह कॉलेज गई थी। यहां दानिश ने एक्सीडेंट करने का प्रयास किया।उसके पैर में चोटें भी आई थी।

- पिता ने आरोप लगाए कि किसी से कुछ नहीं बोल पाने और दानिश की हरकतों का सामना नहीं कर पाने से दुखी होकर बेटी ने सुसाइड किया। आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज हो।

थाने में मिलते रहे परिवार के लोग
- गौतम नगर पुलिस ने घटना की शिकायत मिलने के 30 घंटे बाद दानिश के खिलाफ सुसाइड के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज कर अरेस्ट किया।

- उसे लॉकअप में न रखकर कुर्सी पर बैठाया रखा। इस दौरान उससे उसके परिवार के लोग उससे आसानी से मिलते रहे।

चचेरे भाई ने फेसबुक पर छेड़ी सजा दिलाने की मुहिम

- लड़की के चचेरे भाई ने आरोपी दानिश को सजा दिलाने के लिए फेसबुक पर मुहिम छेड़ दी। 24 घंटे में एक पोस्ट पर ढाई हजार लोग प्रतिक्रिया दे चुके हैं।

- लोगों ने दानिश पर अपना गुस्सा निकालते हुए उसे बीच चौराहे पर लटकाकर फांसी देने की मांग की है।

आरोपी को भेजा जेल

- पुलिस ने आरोपी दानिश को सोमवार दोपहर न्यायालय में पेश कर दिया। न्यायालय ने आरोपी को जेल भेज दिया। इस मामले में अधिकारियों के मुताबिक, किसी भी तरह की जानकारी देने से बचते रहे। लड़की का मोबाइल फोन जब्त होने के बाद भी वे दानिश के खिलाफ कोई भी सबूत नहीं होने की बात कहते रहे।

- परिवार के लोगों ने उन्हें मोबाइल फोन दूसरे ही दिन दे दिया था। इसके बाद भी एसआई इस बात को छिपाते रहे। पुलिस ने लड़की की सहेली के बयान दर्ज किए हैं। इसमें उसने कबूल किया है कि लड़की की पहले दानिश से बात होती थी, लेकिन कुछ दिनों से उससे उसकी बात नहीं हो रही थी। वह बात करने के लिए दबाव बना रहा था।

परिवार के लोगों ने किया थाने का घेराव

- आरोपी के खिलाफ सख्त सजा दिलाने की मांग को लेकर परिजनों ने सोमवार शाम गौतम नगर थाने का घेराव किया।

- परिजनों और लोगों ने हाथों में मोमबत्ती लेकर एक मार्च भी निकाला। इसमें महिलाएं बड़ी संख्या में थी।

किसी ने नहीं की थी शिकायत

- आला अधिकारियों के मुताबिक, दानिश के खिलाफ केस दर्ज हो गया है। न तो लड़की और न ही परिवार के लोगों ने किसी भी लेवल पर शिकायत की थी। हम सभी के बयानों और अन्य सबूतों को इकट्ठा कर रहे हैं।

सुसाइड के लिए उकसाने केस दर्ज हुआ है। सुसाइड के लिए उकसाने केस दर्ज हुआ है।
घर आकर फंदे से लटक गई थी लड़की। घर आकर फंदे से लटक गई थी लड़की।
मृतक। मृतक।
मृतक लड़की की मां। मृतक लड़की की मां।
लड़की के चचेरे भाई ने मृतक के खिलाफ सोशल मीडिया पर फांसी दिलाने की मांग की है। लड़की के चचेरे भाई ने मृतक के खिलाफ सोशल मीडिया पर फांसी दिलाने की मांग की है।
X
कॉलेज गर्ल ने सुसाइड कर लिया था।कॉलेज गर्ल ने सुसाइड कर लिया था।
सुसाइड के लिए उकसाने केस दर्ज हुआ है।सुसाइड के लिए उकसाने केस दर्ज हुआ है।
घर आकर फंदे से लटक गई थी लड़की।घर आकर फंदे से लटक गई थी लड़की।
मृतक।मृतक।
मृतक लड़की की मां।मृतक लड़की की मां।
लड़की के चचेरे भाई ने मृतक के खिलाफ सोशल मीडिया पर फांसी दिलाने की मांग की है।लड़की के चचेरे भाई ने मृतक के खिलाफ सोशल मीडिया पर फांसी दिलाने की मांग की है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..