Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» IG-To-Be Shaheed Constables Wife, Do Not Give Up

IG से बोली शहीद की पत्नी, हत्यारों को जिंदा मत छोड़ना या मुझे थमा दो बंदूक

एमपी पुलिस में हेड कांस्टेबल अरविंद सेन का शुक्रवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 08, 2017, 11:02 PM IST

  • IG से बोली शहीद की पत्नी, हत्यारों को जिंदा मत छोड़ना या मुझे थमा दो बंदूक
    +3और स्लाइड देखें
    शहीद हुए एमपी पुलिस में हेड कांस्टेबल अरविंद सेन का शुक्रवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

    गुना (भोपाल).अालीराजपुर में बुधवार शाम को बदमाशों के हमले में में शहीद हुए एमपी पुलिस में हेड कांस्टेबल अरविंद सेन का शुक्रवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जहां शुक्रवार सुबह 4 बजे शहीद जवान का पार्थिव शरीर लाया गया। इस दौरान शहर के कई आला अधिकारी भी मौजूद रहे उन्होंने इन्हें श्रृद्धांजलि दी। शहीद को श्रद्धांजलि देने पहुंचे आईजी ने शहीद की पत्नी सीमा सेन को पुलिस में अनुकंपा पर पोस्टिंग देने का आश्वासन दिया। शहीद की पत्नी ने कहा-इंदौर में दिलाओ नौकरी....

    - शहीद की पत्नी ने रोते हुए कहा आईजी से कहा कि, जिन कायरों ने मेरे पति को मारा है या तो आप उन्हें जिंदा मत छोड़ना या फिर मेरे हाथों में बंदूक दे दो, मैं उन हत्यारों में से एक को भी जिंदा नहीं छोडूंगी। आप मुझे इंदौर में ही नौकरी दिलाओ। मैं खुद उसी थाने में रहकर उन कायरों से मेरे पति की हत्या का बदला लूंगी।

    साजिश से कराई हत्या
    - शहीद हेड कांस्टेबल अरविंद के भाई छोटे भाई अनिल सेन का कहना है कि मेरे भाई बोरी थाना में एचसीएम हेड कांस्टेबल मुंशी के पद पर पदस्थ थे, लेकिन फिर भी उन्हें पेट्रोलिंग पर भेजा गया।

    - घटना को तीन दिन हो गए हैं, लेकिन हमें अालीराजपुर पुलिस मेरे भाई को पेट्रोलिंग के लिए जोबट क्यों भेजा गया था, यह भी नहीं बता रही है। रास्ते में पहले से घात लगाकर बैठे बदमाशों से उन्होंने मुकाबला किया।

    बेटियों ने कहा, हम पूरा करेंगे पापा का सपना
    - अपने बेटे को मृत देखकर शहीद की मां सुमित्रा बाई रोक रोककर बेहोश हो चुकी थी। शहीद की पत्नी बोली उनका सपना था कि 9 साल की बेटी लक्की कलेक्टर और 7 साल की दूसरी बेटी कामना इंजीनियर बने।

    - इस पर शहीद की बड़ी बेटी लक्की ने मां से कहा कि, मम्मी आप क्यों परेशान होते हो, मैं खुद अपने पिता का सपना पूरा करूंगी, बस मुझे बड़ा होने दो।

    यह है पूरा मामला
    - बीते बुधवार शाम को अालीराजपुर जिले के जोबट सेक्शन के बोरी थाना में पोस्टेड हेड कांंस्टेबल पेट्रोलिंग करते हुए जोबट निकले थे।

    - डेकाकुंड गांव के हवेली फलिया के समीप 10 बदमाशों ने ट्रैक्टर चालक दिलीप डाबर से मारपीट कर 650 रुपएऔर मोबाइल लूट लिया था।

    - इस दौरान अरविंद भी वहां पहुंचे। बदमाशों ने दिलीप को छोड़ दिया ओर अरविंद की पत्थरों व लाठियों पिटकर हत्या कर डाली।

    आगे की स्लाइड्स में देखें खबर से संबंधित फोटो...

  • IG से बोली शहीद की पत्नी, हत्यारों को जिंदा मत छोड़ना या मुझे थमा दो बंदूक
    +3और स्लाइड देखें
    शहीद की पत्नी को आईजी ने अनुकंपा पर पोस्टिंग देने का आश्वासन दिया।
  • IG से बोली शहीद की पत्नी, हत्यारों को जिंदा मत छोड़ना या मुझे थमा दो बंदूक
    +3और स्लाइड देखें
    शहीद की पत्नी।
  • IG से बोली शहीद की पत्नी, हत्यारों को जिंदा मत छोड़ना या मुझे थमा दो बंदूक
    +3और स्लाइड देखें
    शहीद की पार्थिव देह।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: IG-To-Be Shaheed Constables Wife, Do Not Give Up
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×