Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Innocent, Death By Trapping Milk In The Respiratory Tract

जन्म के 20 घंटे तक ही जिंदा रहा मासूम, सांस नली में दूध फंसने से हुई मौत

बेगमगंज सिविल हॉस्पिटल में एक नवजात की मौत के बाद परिवार के लोगों ने जमकर हंगामा किया।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 15, 2018, 03:52 AM IST

जन्म के 20 घंटे तक ही जिंदा रहा मासूम,  सांस नली में दूध फंसने से हुई मौत

रायसेन (भोपाल).बेगमगंज सिविल हॉस्पिटल में एक नवजात की मौत के बाद परिवार के लोगों ने जमकर हंगामा किया। परिवार ने स्टॉफ पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। उन्होंने दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं बीएमओ ने कहा कि सांस नली में दूध फंसने से नवजात की मौत हुई है। क्या है मामला...

- जानकारी के मुताबिक, नगर के चौपड़ा मोहल्ला के रहने वाले मनीष खरे की पत्नी रागनी खरे को प्रसव पीड़ा होने पर सिविल हॉस्पिटल में 11 फरवरी को एडमिट कराया गया था।

- 12 फरवरी की रात करीब 3 बजे रागनी एक बच्चे को जन्म दिया। उक्त बालक दिन भर सही रहा और रात करीब 11 बजे से उसकी हालत बिगड़ने लगी।

- वह जोर-जोर से रोने लगा, तब परिजनों ने ड्यूटी पर मौजूद नर्सों से बच्चे को देखने व डाॅक्टर को बुलाने के लिए कहा।

- हालत बिगड़ने पर भी उक्त नर्सों ने यह उचित नहीं समझा कि वे जाकर बच्चे को देख सकें या डाॅक्टर को बुलाकर चैक करा सकें। नर्सों की लापरवाही के चलते सुबह बच्चे ने रोना बंद कर दिया।

- करीब 9 बजे डाॅ. दिलीप बाड़बूदे ने आकर चैक किया तो उन्होंने बताया कि बच्चा तो करीब ढाई तीन घंटे पहले मर चुका है। यह बात सुनते ही परिजन भड़क गए और जमकर हंगामा किया।

सीएम हेल्प लाइन में कंप्लेंट
- नर्सों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए मृत नवजात के पिता मनीष खरे ने सीएम हेल्पलाइन में अपनी कंप्लेंट दर्ज कराई है।

- शिकायत पर डाक्टर्स कहते हैं कि शिशु की माता जो कि पूर्व से एक चार साल की बच्ची की मां है उसे शिशु को दूध पिलाना नहीं आता।

- इस कारण दूध उसकी सांस नली में चला गया और बच्चे की मौत हो गई। इसमें हम क्या कर सकते हैं।


सांस नली में दूध फंसने से मौत
- ब्लाक मेडिकल अधिकारी, के मुताबिक, नर्सों से मिली जानकारी के अनुसार नवजात को मां ने दूध सही तरीके से नहीं पिलाया। सांस नली में दूध चले जाने से उसकी मौत हो गई। यदि नर्सों ने लापरवाही की है तो जांच करेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×