--Advertisement--

जैकी श्रॉफ पहुंचे खजुराहो, कहा- यह आयोजन मुंबई में होता तो भीड़ नहीं जुटती

जैकी श्रॉफ ने कहा- इस तरह के आयोजन से यहां की प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा।

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2017, 07:38 AM IST
जैकी श्रॉफ जैकी श्रॉफ

खजुराहो. अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की छठवीं शाम बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्राॅफ मुख्य आकर्षण रहे। मुक्ताकाशी मंच पर पहुंचते ही पूरा आयोजन मंडल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। उनके साथ सावधान इंडिया के प्रमुख एंकर एवं किरदार सुशांत सिंह, अमित बहल एवं नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के निदेशक बामन केंद्रे भी मंचासीन रहे। अभिनेता जैकी श्रॉफ का पूर्व केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने शाल श्रीफल से सम्मान किया।

स्वागत से अभिभूत जैकी श्रॉफ ने कहा कि यहां आके बहुत गौरवांवित महसूस कर रहा हूूं। यहां इतना बड़ा आयोजन हो रहा है यह क्षेत्र वासियों के लिए गर्व की बात है। कार्यक्रम में जुटी हजारों की भीड़ देखकर जैकी श्रॉफ ने कहा कि अगर यही कार्यक्रम मुंबई में हो रहा होता तो इतनी भीड़ नहीं आती। इसके पहले खजुराहो एयरपोर्ट पर जैकी श्रॉफ का फूल मालाओं से नहीं बल्कि तुलसी का पौधा भेंट कर राम बुंदेला से स्वागत किया। जैकी श्रॉफ ने कहा कि मालाएं उतार कर लोग फेंक देते हैं, जो पैरों से कुचली जाती हैं। मैं यह तुलसी का पौधा घर ले जाऊंगा और घर में लगाकर रोज सपत्नी पूजा करेंगे।

छठवीं शाम सिंक इंटरटेंमेंट मुंबई की टीम ने कॉमेडी एवं डिवोसन फोक फ्यूजन पर आधारित क्षेत्रीय लोक नृत्य पेश किए। वहीं लोग कंचन ग्रुप के कलाकारों ने साहिबा लाइ दो कर्ण फूल’ गीत पर सामूहिक मालवा नृत्य पेश कर सैकड़ों दर्शकों को झूमने व थिरकने पर मजबूर कर दिया। पांडाल में तालियां गूंज उठीं। दर्शकों ने कलाकारों का तालियां बजाकर स्वागत एवं सम्मान किया। इसके अलावा मालवा के कलाकारों ने एक से बढ़कर एक नृत्य पेश कर सबके मन मोह लिए। मुंबई के हास्य कलाकार सुरेंद्र कैनी ने कई फिल्मी हस्तियों एवं देश की हस्तियों की नकल कर खूब गुदगुदाया।

संस्कृति फिल्म को मिली सराहना


छतरपुर|स्थानीय शार्ट फिल्म संस्कृति को खजुराहो अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में प्रदर्शित किया गया। यह छतरपुर में जेपी सिनेमा और खजुराहो में यह फिल्म दिखाई गई है। इस दौरान फिल्म समीक्षकों ने फिल्म की सराहना की है। फिल्म को छतरपुर की संस्कृति एकेडमी ने तैयार किया है। एकेडमी की डायरेक्टर नविता सिंह ने बताया कि फिल्म में ज्यादातर कलाकार एकेडमी के ही है।

फिल्म निर्माण के लिए खजुराहो बेहतर जगह
शुक्रवार दोपहर को टीवी सीरियल श्रीमान श्रीमती, भाभी जी घर पर हैं, मेरा मतलब ए नही , मसाज आदि मे नाम कमा चुके फ़िल्म अभिनेता राकेश वेदी ने खजुराहो आए। उन्होने कहा कि खजुराहो फ़िल्म बनाने के लिए अच्छी लोकेसन है। यहां पारंपरिक तरीके से नाटक का मंचन होना चाहिए। उन्होने कहा मुझे भी नाटक से ही ख्याति मिली है।

X
जैकी श्रॉफजैकी श्रॉफ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..