--Advertisement--

कटारे की गिरफ्तारी अब भी तय नहीं, छात्रा को दिल्ली लेकर जाएगी टीम

स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) की बुधवार को पहली बैठक हुई।

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 06:34 AM IST
Kataras arrest still not decided

भोपाल. कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे पर दर्ज ज्यादती और अपहरण के मामले की जांच के लिए बनी स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) की बुधवार को पहली बैठक हुई। करीब एक घंटे तक चली बैठक के दौरान इस मामले में ज्यादा से ज्यादा सबूत जुटाने को लेकर बात की गई। कटारे की गिरफ्तारी पर कोई चर्चा नहीं हुई। एसआईटी का दावा है कि गिरफ्तारी को लेकर कोई जल्दबाजी नहीं की जाएगी। ऐसा इसलिए ताकि पुलिस की कार्रवाई को लेकर आगे कोई सवाल न उठे। छात्रा को ब्लैकमेलिंग के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजने की जल्दबाजी पर पुलिस फिलहाल बैकफुट पर है।


- एसआईटी के मुताबिक पुलिस को तीनों ही मामलों (अड़ीबाजी, ज्यादती और अपहरण) में केस से जुड़े साक्ष्य जुटाने हैं। छात्रा कोर्ट में अपने बयान दर्ज करा चुकी है। इसमें उसने कटारे और क्राइम एएसपी रश्मि मिश्रा पर लगाए आरोपों को दोहराया है।

- यदि छात्रा कहती है कि वह दिल्ली में उन होटल की पहचान कर सकती है, जहां कटारे ने उसके साथ ज्यादती की है तो पुलिस उसे लेकर दिल्ली जाएंगे। स्टेशन बजरिया पुलिस ने छात्रा की मां के अपहरण के मामले में कुछ महत्वपूर्ण साक्ष्य इकट्ठा कर लिए हैं। वहीं, कटारे को नोटिस जारी किया गया है कि वह एसआईटी के समक्ष प्रस्तुत होकर अपने बयान दर्ज कराएं।

एएसपी मिश्रा के भी हो सकते हैं बयान

- कटारे की गिरफ्तारी को लेकर हुए सवाल पर पुलिस अफसरों ने चुप्पी साध ली है। दावा है कि विवेचना में जैसे-जैसे साक्ष्य सामने आएंगे वैसे-वैसे ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही पुलिस अब कटारे के बयान दर्ज करने की तैयारी भी कर रही है।

- इसके लिए उन्हें नोटिस जारी किया गया है। छात्रा ने एफआईआर में क्राइम ब्रांच एएसपी रश्मि मिश्रा का जिक्र किया है कि उन्होंने हेमंत की मदद की। उन्होंने गिरफ्तारी के बाद एफआईआर दर्ज की थी। अफसरों का कहना है कि यदि जरूरी होगा तो एएसपी मिश्रा के बयान लिए जाएंगे।

हाजिरी दर्ज कराने कोर्ट पहुंची छात्रा, बोली- हेमंत से मुझे व परिवार को जान का खतरा, जल्द हो गिरफ्तारी
- वकील आकाश तैलंग ने बताया कि छात्रा बुधवार दोपहर कोर्ट में उपस्थित हुई। उसने हाजिरी रजिस्टर में अपने हस्ताक्षर किए। अगली पेशी आठ मार्च तय हुई है। इस बीच पुलिस अपना चालान प्रस्तुत कर सकती है।

- छात्रा ने इस दौरान कहा कि यदि पुलिस वाकई मेरी मदद करना चाहती है तो जल्द से जल्द हेमंत कटारे को गिरफ्तार करे। उससे मेरे परिवार और मुझे जान का खतरा है। हेमंत के खिलाफ जो सबूत मेरे पास हैं, उन्हें मैं समय आने पर अदालत के सामने पेश कर दूंगी।

X
Kataras arrest still not decided
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..