Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Last Farewell To The Cow Like A Suhagan

सुहागन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार

गाय से था इतना स्नेह की रो पड़ी महिलाएं, 4 साल पहले आई थी मोहल्ले में।

Mradul SIngh Rajpoot | Last Modified - Mar 13, 2018, 08:34 AM IST

  • सुहागन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार
    +3और स्लाइड देखें
    गाय को लाल साड़ी पहनाने के बाद।

    गंजबासौदा(भोपाल). शहर में जानवर के प्रति प्रेम रखने का एक और मामला देखने में आया है। जहां पर मोहल्ले की महिलाओं ने एक गाय की मौत पर उसे सुहागिनों की तरह विदा किया। कई महिलाओं की आंखें भी उस समय नम थीं। जानकारी के मुताबिक वे महिलाएं काफी समय से उस गाया की सेवा कर रही थीं और उसकी बीमारी के चलते मौत हो गई थी। ये था पूरा मामला...

    - ये मामला गंजबासौदा के नेहरू चौक इलाके का है जहां पर गाय की मौत हुई थी।
    - जानकारी के मुताबिक ब्यूटी पार्लर संचालक अर्चना जैन के मोहल्ले में 4 साल पहले एक गाय आई थी जिससे उन्हें काफी लगाव हो गया था।
    - गाय देख नहीं सकती थी, लोगों ने उसका नाम गौरी रख दिया था। सभी जब उसे गौरी नाम लेकर बुलाते थे वो उनके पास चली जाती थी।
    - गाय के लिए घर की एक दुकान को खाली कर उसमें गाय को रखा जाता था, और नियमित रूप से उसे चारा और खाना दिया जाता था।

    ऐसे किया उसे विदा

    - गाय कुछ दिन से बीमार थी जिसके बाद उसका इलाज चल रहा था।
    - इलाज के दौरान गौरी की मौत हो गई और जैसे ही उसकी मौत का समाचार लोगों को मिला तो मोहल्ले वालों की भीड़ लग गई।
    - गाय के खुरों में महिलाओं ने मेंहदी लगाई, चूड़ियां पहनाईं सिंदूर लगाया और लाल साड़ी भी पहनाई।
    - उसके बाद गौरी गाय को ससम्मान नगर पालिका की गाड़ी में विदा किया।

    फोटो- राजा छारी

  • सुहागन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार
    +3और स्लाइड देखें
    गाय की मौत पर रोती हुई महिला।
  • सुहागन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार
    +3और स्लाइड देखें
    गाय के माथे पर लगा हुआ सिंदूर।
  • सुहागन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार
    +3और स्लाइड देखें
    गाय को साड़ी पहनाती महिला।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Last Farewell To The Cow Like A Suhagan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×