--Advertisement--

सुहागिन की तरह गाय को दी अंतिम विदाई, चूड़ी. मेंहदी, लाल साड़ी से किया था श्रृंगार

गाय से था इतना स्नेह की रो पड़ी महिलाएं, 4 साल पहले आई थी मोहल्ले में।

Danik Bhaskar | Mar 12, 2018, 10:55 PM IST
गाय को लाल साड़ी पहनाने के बाद। गाय को लाल साड़ी पहनाने के बाद।

गंजबासौदा(भोपाल). शहर में जानवर के प्रति प्रेम रखने का एक और मामला देखने में आया है। जहां पर मोहल्ले की महिलाओं ने एक गाय की मौत पर उसे सुहागिनों की तरह विदा किया। कई महिलाओं की आंखें भी उस समय नम थीं। जानकारी के मुताबिक वे महिलाएं काफी समय से उस गाया की सेवा कर रही थीं और उसकी बीमारी के चलते मौत हो गई थी। ये था पूरा मामला...

- ये मामला गंजबासौदा के नेहरू चौक इलाके का है जहां पर गाय की मौत हुई थी।
- जानकारी के मुताबिक ब्यूटी पार्लर संचालक अर्चना जैन के मोहल्ले में 4 साल पहले एक गाय आई थी जिससे उन्हें काफी लगाव हो गया था।
- गाय देख नहीं सकती थी, लोगों ने उसका नाम गौरी रख दिया था। सभी जब उसे गौरी नाम लेकर बुलाते थे वो उनके पास चली जाती थी।
- गाय के लिए घर की एक दुकान को खाली कर उसमें गाय को रखा जाता था, और नियमित रूप से उसे चारा और खाना दिया जाता था।

ऐसे किया उसे विदा

- गाय कुछ दिन से बीमार थी जिसके बाद उसका इलाज चल रहा था।
- इलाज के दौरान गौरी की मौत हो गई और जैसे ही उसकी मौत का समाचार लोगों को मिला तो मोहल्ले वालों की भीड़ लग गई।
- गाय के खुरों में महिलाओं ने मेंहदी लगाई, चूड़ियां पहनाईं सिंदूर लगाया और लाल साड़ी भी पहनाई।
- उसके बाद गौरी गाय को ससम्मान नगर पालिका की गाड़ी में विदा किया।

फोटो- राजा छारी

गाय की मौत पर रोती हुई महिला। गाय की मौत पर रोती हुई महिला।
गाय के माथे पर लगा हुआ सिंदूर। गाय के माथे पर लगा हुआ सिंदूर।
गाय को साड़ी पहनाती महिला। गाय को साड़ी पहनाती महिला।