--Advertisement--

13 साल के रोहित की गर्दन मुंह में दबाकर जंगल में भागा तेंदुआ, फिर हो गई मौत

हमले के बाद 13 वर्षीय रोहित राजपूत पुत्र दर्शनसिंह राजपूत की घटना स्थल पर ही माैत हो गई।

Dainik Bhaskar

Jan 06, 2018, 06:35 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

खरगाेन. शाम को माधामऊ गांव के समीप खेत में तेंदुए ने एक बच्चे काे अपना शिकार बना लिया। तेंदुए के हमले के बाद खेत में मौजूद लोग चिल्लाते रह गए और तेंदुआ बच्चे को जंगल में खींच ले गया। हमले के बाद 13 वर्षीय रोहित राजपूत पुत्र दर्शनसिंह राजपूत की घटना स्थल पर ही माैत हो गई।

गांव के बाबूलाल राजपूत और तुलसीराम राजपूत ने बताया कि देर शाम जब बच्चे के शव को बरेली लाया जा रहा था, तब भी तेंदुआ डायल 100 के सामने गया था। माधामऊ गांव से घटना की जानकारी जैसे ही घनश्यामसिंह रघुवंशी काे मिली तो उन्हाेंने तत्काल डायल 100 सहित पुलिस थाना बरेली काे अवगत कराया। बरेली थाना प्रभारी सज्जन सिंह मुकाती ने तुरंत ही पुलिस काे माैके पर भेजा। घनश्यामसिंह रघुवंशी ने बताया कि कई दिनों से आसपास तेंदुए की हलचल हाे रही थी। करीब आठ दस दिन पहले भी ढिलवार गांव से तेंदुए ने एक गाय काे खींच लिया था। उन्हाेंने बताया कि वन विभाग की उदासीनता के चलते काेई ध्यान नहीं दिया गया। यह बात अलग है कि शुक्रवार की घटना के बाद वन विभाग के एसडीओ पूरे वन अमले के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए।

X
डेमोफोटोडेमोफोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..