भोपाल

--Advertisement--

शपथ लेते ही एक्शन मोड में गवर्नर, आगंनबाड़ी पहुंच बच्चियों से पूछा ये सवाल

विश्वविद्यालय काम का कैलेंडर बनाएं, कुलपति प्रेजेंटेशन तैयार करें

Danik Bhaskar

Jan 24, 2018, 04:36 AM IST
आनंदीबेन पटेल अपनी बेटी(सबसे आगे) के साथ सेल्फी लेते हुए। आनंदीबेन पटेल अपनी बेटी(सबसे आगे) के साथ सेल्फी लेते हुए।

भोपाल. गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने मंगलवार को राज्यपाल पद संभाल लिया। उन्हें मध्यप्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश हेमंत गुप्ता ने पद की शपथ दिलाई। इस मौके पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके मंत्रिमंडल के सदस्य मौजूद थे। शपथ लेने के बाद आनंदी बेन एक्शन मोड में आ गईं। उन्होंने यूनिवर्सिटीज को काम का कैलेंडर बनाने के निर्देश दिए। आनंदीबेन महिला बाल विकास विभाग की आंगनबाड़ी, बाल निकेतन और बिड़ला मंदिर भी गईं। ये मिल रही सुविधाएं...

आंगनवाड़ी में सेनेटरी नेपकिन मिलते हैं अथवा नहीं ? यह सवाल मंगलवार को राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने लिंक रोड स्थित आंगनवाड़ी में किशोरी अंजलि से पूछा। किशोरी ने इस सवाल का हां में जवाब दिया। नवनियुक्त राज्यपाल पद ग्रहण करने के बाद अंकुर स्कूल में संचालित आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 729 में बालिकाओं से मिलने पहुंचीं। यहां उन्होंने किशोरियों और बच्चों को फल और मिठाई बांटकर उनसे स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। इस दौरान राज्यपाल ने सभी से स्वास्थ्य और स्वच्छता से संबंधित सवाल भी किए। उन्होंने यहां शौर्या दल व सबला योजना की भी जानकारी ली।

आंगनवाड़ी की सुपरवाइजर पूनम सोनी ने बताया कि राज्यपाल ने लाड़ली लक्ष्मी योजना की हितग्राही अक्षिता और लावण्या को सर्टिफिकेट भी वितरित किए। उन्होंने बताया कि सोमवार देर शाम सभी बच्चों के माता-पिता और किशोरियों को राज्यपाल के अाने की सूचना दी गई थी। वर्ष 2015 में बनी इस आंगनवाड़ी में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी भी आ चुकी हैं।

बच्चों को दिलाई जाए आर्ट की ट्रेनिंग
जब बच्चे बिना किसी ट्रेनिंग के इतनी अच्छी पेंटिंग और हस्तशिल्प का काम कर लेते हैं तो इन्हें यदि आर्ट की ट्रेनिंग दी जाए, तो इनकी कला और निखर सकती है। यह बात हमीदिया रोड स्थित बाल निकेतन के बच्चों द्वारा बनाई गई पेंटिंग और हस्तशिल्प देखने के बाद राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कही। बच्चों ने अपने हाथों से बनाई शाॅल और चुनरी राज्यपाल को भेंट की।

बाल निकेतन में राज्यपाल यहां आधे घंटे रुकी। इस दौरान उन्होंने बच्चों से पढ़ाई की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने बालगृह के 61 बच्चों और टीचर्स को फल और चॉकलेट बांटी। बच्चों ने भी स्वागत गीत प्रस्तुत किया। महिमा भारती ने दुर्गा शक्ति स्तोत्र सुनाया। फिर सामूहिक रूप से बच्चों ने नर्मदा स्तुति प्रस्तुत की।

महिलाओं और बच्चों पर विशेष अनुग्रह
महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि राज्यपाल एक महिला हैं, इसलिए उनका विशेष अनुग्रह महिलाओं और बच्चों से है। यही वजह है कि शपथ ग्रहण के बाद वे आंगनबाड़ी और बाल गृह में बच्चों से मिलने पहुंची।

कम्प्यूटराइज्ड काम नहीं होता क्या?
आनंदीबेन के पास पहली फाइल आई तो उन्होंने अफसर से पूछा- कम्प्यूटराइज्ड काम नहीं होता क्या? अभी तो मैं साइन कर रही हूं, आगे से कम्प्यूटराइज्ड सिस्टम से मूव होना चाहिए।

यूनिवर्सिटीज का कैलेंडर बनता है या नहीं?
अफसरों से पूछा- यूनिवर्सिटीज का कैलेंडर बनता है या नहीं? उन्हें बताया गया कि आगे से बनाया जाएगा। इस पर उन्होंने निर्देश दिए कि एक रिपोर्ट तैयार करके दें कि यूनिवर्सिटीज का शैक्षणिक सत्र कब शुरू होता है। एग्जाम कब होते हैं।

सभी कुलपति प्रजेंटेशन दें
राज्यपाल ने निर्देश दिए कि सभी कुलपति अपनी यूनिवर्सिटी के कामकाज का प्रेजेंटेशन तैयार कर लाएं। प्रदेश में 48 यूनिवर्सिटी राज्यपाल के अधीन हैं। 22 सरकारी और 26 प्राइवेट हैं।

आंगनवाड़ी की सुपरवाइजर पूनम सोनी ने बताया कि राज्यपाल ने लक्ष्मी योजना की हितग्राही कोप्रेसर दिया। आंगनवाड़ी की सुपरवाइजर पूनम सोनी ने बताया कि राज्यपाल ने लक्ष्मी योजना की हितग्राही कोप्रेसर दिया।
अक्षिता और लावण्या को सर्टिफिकेट भी वितरित किए। अक्षिता और लावण्या को सर्टिफिकेट भी वितरित किए।
उन्होंने बताया कि सोमवार देर शाम सभी बच्चों के माता-पिता और किशोरियों को राज्यपाल के अाने की सूचना दी गई थी। उन्होंने बताया कि सोमवार देर शाम सभी बच्चों के माता-पिता और किशोरियों को राज्यपाल के अाने की सूचना दी गई थी।
वर्ष 2015 में बनी इस आंगनवाड़ी में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी भी आ चुकी हैं। वर्ष 2015 में बनी इस आंगनवाड़ी में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी भी आ चुकी हैं।
बाल निकेतन में राज्यपाल यहां आधे घंटे रुकी। बाल निकेतन में राज्यपाल यहां आधे घंटे रुकी।
CM शिवराज सिंह वेलकम करते हुए। CM शिवराज सिंह वेलकम करते हुए।
शपथ लेती हुई आनंदीबाई पटेल। शपथ लेती हुई आनंदीबाई पटेल।
Click to listen..