--Advertisement--

मौत के बाद भी मां बेटे को मानती रही जिंदा, सीने से लगा लंगूर को ले जाने लगी

शहर में अजब वाकया देखने को मिला। एक लंगूर की बिजली के तारों से उलझ करंट लगने से मौत हो गई।

Danik Bhaskar | Jan 20, 2018, 04:29 AM IST
खरगोन में एक बंदर के बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई। शव पर लोगों ने कफन डाल दिया। इतने में ही उसकी मां आई और बार-बार कफन हटाकर चेहरा देखती रही। खरगोन में एक बंदर के बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई। शव पर लोगों ने कफन डाल दिया। इतने में ही उसकी मां आई और बार-बार कफन हटाकर चेहरा देखती रही।

खरगोन (इंदौर). शहर में अजब वाकया देखने को मिला। एक बंदर की बिजली के तारों से उलझकर करंट लगने से मौत हो गई। इसके बाद बिजली कर्मचारियों ने उसे जैसे तैसे निकाला। हिंदू संगठन के कुछ लोग उसका अंतिम संस्कार करने पहुंच गए। इस दौरान सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थी लेकिन इतने में बंदर की मां आई और मुंह से कपड़ा हटाकर उसकी डेडबॉडी उठाकर भाग गई। इस दौरान बंदरिया की ममता भी देखने को मिली। वहां मौजूद सभी लोग इस भावुक करने वाले नजारे को देखते रहे। डेडबॉडी को सीने से लगा लिया था...

- दरअसल, बैंक कॉलोनी में शुक्रवार को सुबह 9 बजे चार माह के बंदर की करंट लगने से मौत हो गई। बिजली कर्मचारियों ने उसे निकाला। इतने में लंगूर की मां पहुंच गई और उसके मुंह से कपड़ा हटाकर बच्चे को लेकर भाग गई। बाद में फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की टीम ने पटाखे फोड़कर बंदरों को भगाया। और छत से बच्चे का शव लेकर आए। इसके बाद पीएम कराकर अंतिम संस्कार किया।

जैसे कह रही हो - तू चल कुछ नहीं होगा : मां ने अपने मृत बच्चे को गोद में बैठाकर हाथों से उठा लिया। जैसे कह रही हो - तू चल कुछ नहीं होगा : मां ने अपने मृत बच्चे को गोद में बैठाकर हाथों से उठा लिया।
बच्चे का चेहरा देखती बंदरिया। बच्चे का चेहरा देखती बंदरिया।
सीने से चिपकाकर लगाई छलांग। सीने से चिपकाकर लगाई छलांग।
तार में चिपका लंगूर का बच्चा। तार में चिपका लंगूर का बच्चा।