--Advertisement--

मुंबई ब्लास्ट में गई थी पिता की जान, अब कार एक्सीडेंट में हुई मां-बेटे की मौत

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 04:36 AM IST

सड़क हादसे में कोलार के रहने वाले रेलकर्मी अमित रिछारिया और उनकी मां आरती की मौत हो गई।

तेज स्पीड में आ रहे डंपर से टकराने से हुई था दर्दनाक एक्सीडेंट। तेज स्पीड में आ रहे डंपर से टकराने से हुई था दर्दनाक एक्सीडेंट।

भोपाल . शहर के रहने वाले रेलकर्मी अमित रिछारिया और उनकी मां आरती की कार एक्सीडेंट में मौत हो गई। एक्सीडेंट गुरुवार दोपहर तीन बजे विदिशा-अशोक नगर हाइवे पर हुआ। अमित अपने मामा के घर तेरहवीं में शामिल होने जा रहा था। उन्होंने तीन महीने पहले ही यह कार खरीदी थी। वे चितौरिया चौराहा पहुंचे थे तभी सामने से आ रहे बेकाबू डंपर ने उन्हें टक्कर मार दी। डंपर की स्पीड इतनी तेज थी कि वह कार काे टक्कर मारने के बाद भी नहीं रुका। उसने सड़क किनारे की एक दुकान, तीन बाइक, ठेले और साइकल सहित तखत पर बैठे लड़को का भी अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में घायल अमित और आरती की मौके पर ही मौत हो गई। मुंबई ब्लास्ट में गई थी पिता की जान...

- अमित के पिता राकेश रिछारिया मुंबई रेलवे में थे। 1993 में हुए लोकल ट्रेन के सीरियल बम ब्लास्ट में राकेश की मौत हो गई थी।

- ऐसे में अमित को उनकी जगह पर अनुकंपा नियुक्ति दी गई थी। अमित की चार-पांच साल पहले शादी हुई थी, लेकिन कुछ ही महीनों में उनका तलाक हो गया था।

ट्रेन हादसे में कट चुके थे अमित के दोनों पैर
- मुंबई में ही हुए ट्रेन हादसे में अमित के दोनों पैर घुटनों के नीचे से कट गए थे। उनको आर्टिफिशियल पैर लगे हुए थे। अमित के दोस्त नीरज राहुल ने बताया कि करीब तीन महीने पहले ही अमित ने नई कार ली थी। उसे मॉडीफाइड कराकर वे खुद चलाते थे। कार का एक्सीलेटर सहित तमाम फीचर हाथ से ही ऑपरेट होते थे।

एक जनवरी को हाेने वाला था प्रमोशन
- अमित अभी सीनियर क्लर्क के पद पर डीआरएम कार्यालय में पदस्थ थे। ऑफिस सुपरिटेंडेंट अनिल भाटिया शुक्रवार को रिटायर्ड हो रहे हैं। ऐसे में इस पोस्ट पर एक जनवरी को अमित का प्रमोशन होने वाला था।

आज कोलार में होगा अंतिम संस्कार, मामा का बेटा भी साथ था

- हादसे के वक्त अमित के मामा का बेटा मयंक भी उनके साथ था, उसे भी गंभीर चोट लगी है। उसे प्राइवेट हॉस्पीटल में एडमिट किया गया है। जहां उसकी हालत खतरे से बाहर है। यूपी के ललितपुर के रहने वाले अमित कोलार के बीमाकुंज में रहते थे। उनके चाचा दिनेश कुमार रिछारिया हबीबगंज रेलवे स्टेशन मास्टर रहे हैं। अमित का शुक्रवार को अंतिम संस्कार होगा।

मृतक अमित। मृतक अमित।
एक्सीडेंट के बाद कार के परखच्चे उड़ गए। एक्सीडेंट के बाद कार के परखच्चे उड़ गए।
X
तेज स्पीड में आ रहे डंपर से टकराने से हुई था दर्दनाक एक्सीडेंट।तेज स्पीड में आ रहे डंपर से टकराने से हुई था दर्दनाक एक्सीडेंट।
मृतक अमित।मृतक अमित।
एक्सीडेंट के बाद कार के परखच्चे उड़ गए।एक्सीडेंट के बाद कार के परखच्चे उड़ गए।
Astrology

Recommended

Click to listen..