विज्ञापन

स्टूडेंट्स ने विवि को बताए पीटने वाले सात कांस्टेबल के नाम, ये था मामला

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 04:48 AM IST

एफआईआर की कॉपी मांगी है। इसके आधार पर विवि प्रशासन छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

Name of the seven constables who tell the University
  • comment

भोपाल. बरकतउल्ला विश्वविद्यालय के हॉस्टल के छात्रों की पुलिस द्वारा शुक्रवार को की गई पिटाई का मामला गरमा गया है। छात्रों ने उन 7 पुलिस कांस्टेबल के नाम वार्डन को दिए, जिन्होंने हॉस्टल में घुसकर छात्रों को मारा था। डीआईजी ने इस मामले की जांच बिठा दी है। छात्र सोमवार को पुलिस की इस कार्रवाई की शिकायत मप्र मानवाधिकार आयोग से करेंगे। वहीं विवि प्रशासन ने पुलिस से छात्रों द्वारा एक-दूसरे के खिलाफ की गई एफआईआर की कॉपी मांगी है। इसके आधार पर विवि प्रशासन छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करेगा।


शुक्रवार को मुंशी प्रेमचंद और जवाहर हॉस्टल के छात्रों के गुटों के बीच हुई लड़ाई की शिकायत के बाद बागसेवनिया पुलिस ने जवाहर हॉस्टल में घुसकर छात्रों को पीटा था। इसमें कुछ छात्रों को चोटें आई हैं। दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे के खिलाफ एफआईआर कराने के बाद शनिवार सुबह पुलिस छात्रों को थाने ले जाने के लिए हॉस्टल पहुंची। लेकिन चीफ वार्डन प्रो. अरविंद चौहान ने खुद छात्रों को लेकर थाने आने की बात कही। एफआईआर के आधार पर पुलिस ने मुंशी प्रेमचंद हॉस्टल के 7 और जवाहर हॉस्टल के नौ छात्रों को गिरफ्तार कर लिया था। बाद में अंडरटेकिंग लेने के बाद सभी को मुचलके पर छोड़ दिया गया।

इन पुलिसकर्मियों के नाम छात्रों ने दिए
जवाहर हॉस्टल के छात्रों ने बेरहमी से मारपीट करने वाले पुलिस कर्मियों के नाम वार्डन को सौंपे हैं। इनमें हैड कांस्टेबल मनोज कुमार सिंह, कांस्टेबल उपेंद्र सिंह, अशोक सिंह, बद्रीलाल दांगी, महेंद्र, मनीष और दीपक शामिल हैं।

X
Name of the seven constables who tell the University
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन