--Advertisement--

सुरक्षा में बड़ी चूक- छिंदवाड़ा एयर स्ट्रीप पर पुलिस के जवान ने कमलनाथ पर तानी बंदूक

10 फीट दूर खड़ा था जवान, साथी पुलिसकर्मियों ने पकड़कर खींचा।

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 03:28 AM IST
कांग्रेस के सीनियर लीडर्स में शामिल कमलनाथ छिंदवाड़ा से सांसद हैं।   -फाइल फोटो कांग्रेस के सीनियर लीडर्स में शामिल कमलनाथ छिंदवाड़ा से सांसद हैं। -फाइल फोटो

छिंदवाड़ा (भोपाल). पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद कमलनाथ पर शुक्रवार को हवाईपट्टी पर सिक्युरिटी में तैनात एक पुलिसकर्मी रत्नेश पवार ने बंदूक तान दी। घटना करीब 3.45 बजे की है। उस वक्त कमलनाथ प्लेन की सीढ़ियों के नजदीक पहुंचे थे। करीब 10 फीट दूरी पर खड़े जवान रत्नेश पवार पर साथी पुलिसकर्मियों की नजर पड़ गई। उन्होंने तुरंत उसे झपटकर पकड़ा और बाहर ले गए। आरोपी पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया है। हालांकि, रत्नेश ने बंदूक तानने की बात से इनकार किया है।

जेड कैटेगरी सिक्युरिटी मिली है कमलनाथ को

- कमलनाथ को जेड कैटेगरी की सिक्युरिटी मिली हुई है। इसमें सीआरपीएफ के गनमैन तैनात रहते हैं।

- शुक्रवार को छिंदवाड़ा जिले में 4 जगह पर कमलनाथ की सभाएं थीं। उमरेठ में जनसभा के बाद कमलनाथ हेलिकॉप्टर से छिंदवाड़ा हवाईपट्टी पहुंचे थे। जबकि उनके सिक्युरिटी गार्ड कार में सवार थे।

क्या कहा चश्मदीदों ने?

- मौके पर मौजूद रहे चश्मदीद जय मोहरे के मुताबिक, "साहब (कमलनाथ) प्लेन की सीढ़ियां चढ़ रहे थे और पीछे पलटकर उन्होंने अपना हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया। मैं जैसे ही पलटा तो मैंने देखा कि काॅन्स्टेबल रत्नेश पवार की गन सीढ़ियों की तरफ थी। इसके बाद आसपास खड़े पुलिसकर्मी उसे बाहर लेकर गए। इसके बाद हमने पुलिस से इसकी शिकायत की। काॅन्स्टेबल को देखकर लग रहा था कि उसने प्लेन की ओर गन लेकर पोजिशन ली है।"

- वहीं, दूसरे चश्मदीद सुरेश कपाले के मुताबिक, "कमलनाथ जैसे ही दूसरे गेट से हवाईपट्टी तक पहुंचे, उस दौरान ऐसा लगा था कि काॅन्स्टेबल ने उनकी ओर गन तानी, लेकिन हमने इसे अनदेखा कर दिया। इसके बाद दोबारा प्लेन के गेट के पास भी ऐसा ही कुछ किया। इसकी शिकायत मैंने मौके पर मौजूद कुंडीपुरा टीआई रत्नेश मिश्रा से की। उन्होंने काॅन्स्टेबल को फटकार लगाई। इस दौरान काॅन्स्टेबल कह रहा था कि उसके कंधे से बंदूक फिसल गई थी।"

जवान ने बंदूक तानने की बात नकारी

- डीआईजी छिंदवाड़ा रेंज के मुताबिक, काॅन्स्टेबल रत्नेश पवार को सस्पेंड कर दिया है। पूछताछ में वह बंदूक तानने की बात को नकार रहा है। जांच के बाद गार्ड इंचार्ज पर भी कार्रवाई होगी। गार्ड इंचार्ज ही तय करता है कि किस सिपाही को कहां खड़ा होना है। इंचार्ज एसपी नीरज सोनी इसकी जांच कर रहे हैं।

- काॅन्स्टेबल रत्नेश पवार को पहले भी दो बार सस्पेंड किया जा चुका है। हालांकि, इस तरह की हरकत पहली बार सामने आई है। साल 2010 और 2012 में बिना किसी इन्फॉर्मेशन के ड्यूटी से गायब रहने के कारण उसे सस्पेंड किया गया था।

काॅन्स्टेबल का होगा साइको टेस्ट

- आरआई लालबहादुर बौद्ध का कहना है कि घटना के बाद पुलिस अफसरों ने काॅन्स्टेबल रत्नेश पवार की प्राइमरी मेडिकल जांच कराई। शनिवार को उसे मेडिकल बोर्ड के सामने पेश कर साइको टेस्ट कराया जाएगा। एयरस्ट्रिप पर प्लेन की सुरक्षा में चार गार्ड की ड्यूटी लगाई गई थी, जिसमें रत्नेश पवार भी शामिल था।

2012 के दौरान यूपीए सरकार में पार्लियामेंट्री अफेयर मिनिस्टर रह चुके हैं कमलनाथ। -फाइल फोटो 2012 के दौरान यूपीए सरकार में पार्लियामेंट्री अफेयर मिनिस्टर रह चुके हैं कमलनाथ। -फाइल फोटो