--Advertisement--

गतिमान Xpress भोपाल तक आए तो सिर्फ साढ़े 6 घंटे में पहुंचेंगे दिल्ली, रेलवे बोर्ड काे प्रस्ताव

अभी लगभग सवा तीन घंटे में यह गाड़ी निजामुद्दीन से ग्वालियर तक का सफर पूरा करती है।

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 04:28 AM IST
160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती ह 160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती ह

भोपाल. हजरत निजामुद्दीन से चलकर ग्वालियर आ रही गतिमान एक्सप्रेस को भोपाल लाने की कवायद शुरू कर दी गई है। यह कवायद भी इसलिए की जा रही है कि अप्रैल से यह ट्रेन झांसी तक बढ़ाई जा रही है। भोपाल मंडल के डीआरएम शोभन चौधुरी ने इसे लेकर एक प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा है। यदि इस ट्रेन का भोपाल तक बढ़ाया जाता है तो भोपाल से हजरत निजामुद्दीन का सफर करीब 6.30 घंटे में पूरा होगा।

160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती है गतिमान एक्सप्रेस

फरवरी अंत से रेलवे ने अधिकतम 160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलने वाली गतिमान एक्सप्रेस को हजरत निजामुद्दीन से ग्वालियर के बीच शुरू किया है। अभी यह गाड़ी निजामुद्दीन से सुबह 8.10 बजे चलकर सुबह 11.25 बजे ग्वालियर पहुंचती है। ग्वालियर से शाम 4.15 बजे चलकर 7.30 बजे वापस निजामुद्दीन पहुंच जाती है। लगभग सवा तीन घंटे में यह गाड़ी निजामुद्दीन से ग्वालियर तक का सफर पूरा करती है। यह ट्रेन रास्ते में सिर्फ आगरा में ही हाल्ट लेती है।

झांसी तक बढ़ाया क्योंकि...ग्वालियर में 5 घंटे खड़ी रहती है

गतिमान एक्सप्रेस को झांसी तक बढ़ाने के पीछे रेल अधिकारियों का तर्क है कि ट्रेन ग्वालियर तक आने के बाद करीब पांच घंटे तक खड़ी रहती है। इसलिए उसे झांसी तक बढ़ाकर यात्रियों को सहूलियत पहुंचाई जा सकती है। इसी को देखते हुए रेलवे ने इस ट्रेन को आगामी एक अप्रैल से झांसी तक बढ़ा दिया है। टाइम-टेबल के अनुसार यह गाड़ी सुबह 8.10 बजे ही निजामुद्दीन से चलेगी और आगरा व ग्वालियर में हाल्ट लेती हुए दोपहर 12.35 बजे झांसी पहुंचेगी। लौटते समय यह ट्रेन शाम 3.05 बजे झांसी से शाम 7.30 बजे ही निजामुद्दीन पहुंचेगी।

130 होगी रफ्तार...

अधिकारियों के मुताबिक ग्वालियर से झांसी के बीच गतिमान एक्सप्रेस की अधिकतम रफ्तार 130 किमी प्रति घंटे रहेगी। इसी को देखते हुए ट्रेन को भोपाल तक लाने के प्रयास रेल प्रशासन ने शुरू किए हैं। रेल उपयोग कर्ता व सलाहकार समिति के सदस्य निरंजन वाधवानी का तर्क है कि जब गतिमान को ग्वालियर से झांसी के बीच 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलाया जा सकता है, तो 120 की स्पीड से भोपाल तक भी ला सकते हैं। इससे भोपाल के यात्रियों को शताब्दी से तेज स्पीड में चलने वाली ट्रेन मिल सकेगी और रेलवे का रेवेन्यू भी बढ़ सकेगा।

गतिमान v/s शताब्दी

सबसे तेज 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। इसकी अधिकतम रफ्तार 130 किमी प्रति घंटा है।
हजरत निजामुद्दीन से ग्वालियर पहुंचने में तीन घंटे का समय लेती है। शताब्दी भोपाल से नई दिल्ली तक पहुंचने में करी साढ़े 8.30 घंटे का समय लेती है।
इसमें दो एक्जीक्यूटिव एसी कोच और आठ एसी चेयरकार लगे हैं। शताब्दी एक्सप्रेस में दो एक्जीक्यूटिव कोच व 12 चेयरकार रहते हैं।
वाईफाई और मल्टी मीडिया मनोरंजन की सुविधा फ्री है। मल्टी मीडिया मनोरंजन, वाईफाई जैसी सुविधाएं नहीं हैं।

X
160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती ह160 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती ह
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..