--Advertisement--

मौत को सामने देख सहमा बैठा रहा ड्राइवर, ब्रेक फेल की वजह से हुआ ये भीषण हादसा

भोपाल-नागपुर राष्ट्रीय हाईवे बुधवार सुबह करीब साढ़े दस बजे भीषण हादसा हो गया।

Danik Bhaskar | Mar 15, 2018, 05:25 AM IST
डंपर के ड्रायवर का केबिन बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गया और ड्रायवर के पैर इसमें फंस गए। डंपर के ड्रायवर का केबिन बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गया और ड्रायवर के पैर इसमें फंस गए।

भोपाल (मध्यप्रदेश). भोपाल-नागपुर राष्ट्रीय हाईवे बुधवार सुबह करीब साढ़े दस बजे भीषण हादसा हो गया। इस हादसे में अनियंत्रित डंपर ने तीन ट्रकों और एक कार को बुरी तरह से टक्कर मारी। डंपर और ट्रक के बीच में आ जाने से कार बुरी तरह पिचक गई और इसमें सवार दो लोगों की मौत हो गई। मरने वाले होशंगाबाद के रहने वाले थे। दोनों की पहचान शिवप्रसाद परतवाल और कार ड्राइवर राजेश मालवीय के रूप में हुई है। कार शिवप्रसाद ट्रेवलिंग एजेंसी की बताई जा रही है। डंपर का ड्रायवर हादसे के दो घंटे बाद तक वह डंपर में फंसा रहा, इसके बाद उसे निकाला जा सका। कार को घसीटते हुए ले गया...


- पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बुदनी की ओर जा रहा गिट्‌टी से भरा डंपर घाट पर खड़े ट्रक से टकरा गया। इससे डंपर के ड्रायवर का केबिन बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गया और ड्रायवर के पैर इसमें फंस गए।

- इस बीच स्टीयरिंग लॉक होने और ब्रेक फेल हो जाने से डंपर रुका नहीं और सामने से आ रही स्विफ्ट कार से टकराकर उसे घसीटते हुए ले गया।

- दोनों वाहन करीब 15 फीट दूर ही पहुंचे थी तभी कार के पीछे चल रहे ट्रक और डंपर के बीच आ जाने से कार बुरी तक से पिचक गई। इसमें सवार दोनों लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना देने के बाद भी आधे घंटे तक नहीं पहुंची पुलिस
- घटना की सूचना बुदनी पुलिस को दी गई लेकिन मौके पर आधे घंटे तक पुलिस का पता नहीं था। इस दौरान कई लोग वहां रुके और डंपर में फंसे डंपर चालक से घटना के बारे में पूछते रहे। इसके बाद पुलिस पहुंची।

हाईवे पर लगा लंबा जाम
- हादसे से रोड जाम हो गया और बुदनी और बरखेड़ा तक हाईवे पर वाहनों की कतारें लग गईं। जाम में बसें, कार एवं बाकि सवारी वाहनों समेत डंपर-ट्रक भी फंस गए।

- पुलिस ने क्रेन बुलाकर तीन ट्रक-डंपर और कार को सड़क से किनारे किया।

करीब 12 हादसे, 2-3 की मौत
- बुदनी के मिडघाट पर हर माह करीब एक दर्जन से अधिक हादसे होते हैं। इन हादसों में हर माह दो से तीन लोगों की मौत भी हो जाती है जबकि दस से बीस लोग घायल भी होते हैं। ऐसा उतार की वजह से भी होता है।

क्रेन की मदद से घायल और दोंनों शवों को निकाला

- पुलिस के मुताबिक, सड़क हादसे में दोनों मृतकों और घायल को निकाला गया। टक्कर के बाद डंपर ड्राइवर के दोनों पैर फंसे हुए थे।

- क्रेन की मदद से सभी को निकाला जा सका। घायल को होशंगाबाद इलाज के लिए भेजा गया है।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया हमारी कार ट्रक से कुछ दूरी पर ही थी
- मौके पर मौजूद शख्स ने बताया कि, हम अपनी कार से भोपाल जा रहे थे। हमारी कार रेत से भरे ट्रक से कुछ दूरी पर थी। मिडघाट पर पहुंचे तो देखा कि एक बाइक चालक किसी तरह बचता हुआ किनारे पर वाहन खड़ा कर रहा है। जब वहां पहुंचे तो आगे जा रहा ट्रक किसी गाड़ी से टकराया। एक कार इस रेत के ट्रक और डंपर के बीच बुरी तरह पिचक गई थी। इसमें दो लोग सवार थे जिनकी मौत हो चुकी थी।

- डंपर ड्राइवर के पैर स्टेयरिंग के पास बुरी तरह फंसे हुए थे। जब उससे हमने पूछा कि क्या हुआ तो वह केवल यही बता सका कि ब्रेक फेल हो गए थे। हमने तुरंत बुदनी पुलिस को जानकारी दी। इस भीषण हादसे में मृतक भी बुरी तरह वाहन में फंसे थे तो वहीं डंपर ड्राइवर के भी फंसे होने से उसकी मदद भी नहीं की जा सकी।

कार में सवार दो लोगों की मौत हो गई। कार में सवार दो लोगों की मौत हो गई।
हादसे के बाद ट्रक के बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। हादसे के बाद ट्रक के बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए।