--Advertisement--

2 साल में ही जर्जर हो गई स्कूल की बिल्डिंग, फर्श पर बैठने को मजबूर 397 बच्चे

शहर के भानगढ़ में सरकारी स्कूल के 6 बिल्डिंग्स में 16 कमरों में तालीम ले रहे 397 बच्चों के सिर पर खतरा मंडरा रहा है।

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 06:13 AM IST
School building, only in two years, forced to sit on the floor

बीना (भोपाल). शहर के भानगढ़ में सरकारी स्कूल के 6 बिल्डिंग्स में 16 कमरों में तालीम ले रहे 397 बच्चों के सिर पर खतरा मंडरा रहा है। बीअारसी के मुताबिक, मैंने एक साल पहले कमरों को कंडम घोषित कर दिया है, फिर भी शिक्षा विभाग के आला अफसर ध्यान नहीं दे हैं। गौरतलब है कि ये भवन 2011 में स्वीकृत हुआ, और बनने के बाद 2015 में शाला लगना शुरू हुई थी। इसे ग्राम पंचायत ने बनवाया है। यहां पहली से आठवीं तक की कक्षाएं लगती हैं। फर्श उखड़ा, दीवार में आईं दरारें...

- स्कूल के किसी कमरे में छत से प्लास्टर बच्चों के सिर पर झड़ रहा है। तो कहीं बच्चे उखड़े फर्श पर बैठते हैं।

- अभिभावक करन कुर्मी, संजीव जैन ने कहा- सरकार को स्कूल की समस्या को दूर करने के लिए कदम उठाने चाहिए। यहां पहली से आठवीं तक कक्षाएं लगती हैं।

- एसडीएम को बच्चों के माता-पिता ने हालात बताए तो उन्होंने इंजीनियर, पंचायत सचिव को बुलाकर भवनों की हालात सुधारने के आदेश दिए। पर यह आदेश भी हवा में ही है, अमल अब तक नहीं हुआ।

School building, only in two years, forced to sit on the floor
X
School building, only in two years, forced to sit on the floor
School building, only in two years, forced to sit on the floor
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..