Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News »News» Shimla-Like Scenes Showing The Hail From White Roads

एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद

Bhaskar News | Last Modified - Feb 14, 2018, 01:36 PM IST

मंगलवार को भी मौसम आफत बरपाता रहा। विदिशा, रायसेन, सिवनी, सागर और टीकमगढ़ के कई इलाकों में ओले गिरे।
    • मध्यप्रदेश के बैतूल के नजदीक आठनेर रोड पर बिछी ओलों की चादर।

      भोपाल.मंगलवार को भी मौसम आफत बरपाता रहा। विदिशा, रायसेन, सिवनी, सागर और टीकमगढ़ के कई इलाकों में ओले गिरे। खंडवा, देवास समेत कुछ शहरों में बारिश हुई। होशंगाबाद संभाग के 150, बैतूल के 70 और सीहोर के 60 गांवों में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान पहुंचा है। बैतूल के सावाढाना में 150 कच्चे मकान क्षतिग्रस्त होने की सूचना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एसके नायक ने बताया कि बुधवार को भी भोपाल समेत कई जगह आंधी-बारिश का अनुमान है।

      यहां बारिश और ओलों का असर

      बैतूल जिले के 75 से अधिक गांवों में मंगलवार दोपहर एवं शाम को ओलावृष्टि का कहर टूट पड़ा। कहीं बेर तो कहीं आंवले तथा कहीं उससे भी बड़े ओले गिरने से गेहूं, चना, मसूर, तुअर सहित मौसमी फसलों को जमकर नुकसान हुआ। कहीं 15 मिनट तो कहीं आधा घंटा ओले बरसे। इससे खेतों में फसलें आड़ी हो गई। बैतूल ब्लाॅक में जावरा, बैतूल बाजार, जोड़क्या, लोहारिया, भरकावाड़ी, बघोली, भयावाड़ी, सेहरा, कोलगांव सहित आसपास के दो दर्जन गांवों में चने और आंवले के आकार के ओले गिरे। बैतूल-आठनेर मार्ग पर सेहरा जोड़ के पास सड़कों पर ओले की चादर बिछ गई। किसान नेता रमेश गायकवाड़ ने बताया सेहरा से बघोली तक फसलों पर ओलों की मार पड़ी है। खेत में खड़ी गेहूं की फसल आड़ी हो गई है। इसके अलावा चने की फसल को भी जबरदस्त नुकसान हुआ है। किसान शिवपालसिंह राजपूत, विश्वजीत, यशपाल सिंह, ललित, पप्पू ने बताया इन गांवों में मकानों के कवेलू टूट गए। वहीं खेत में फसल भी आड़ी हो गई।

      शाहपुर में दो दर्जन गांव प्रभावित


      दोपहर 4 बजे दो दर्जन गांवों में 15 से 20 मिनट तक लगातार ओले गिरे। गेहूं, चना, आम, तुअर सहित अन्य फसलों को नुकसान हुआ। सोमवार को शाहपुर, पतौवापुरा में शाम 6 बजे गरज-चमक के साथ बारिश के साथ ओले गिरे। शाहपुर के कोटमी, सोहागपुरढाना, पतौवापुरा, शाहपुर, पहावाड़ी, कोटमी, चापड़ा, जामुनढाना, पावरझंडा, घिसीबागला, कान्हेगांव, आंवरिया, तारा, सेहरा, भग्गूढाना और आसपास के गांवों में तेज बारिश के साथ बेर के आकार के ओले गिरे। घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के झाड़कुंड भी प्रभावित हुआ। प्रभारी तहसीलदार सिद्धार्थ जैन, अतिरिक्त तहसीलदार रमेश मेहरा सहित राजस्व अमले ने खेतों में जाकर जायजा लिया। चिचोली ब्लाॅक के केसिया गांव में ओलों की बारिश से आधा दर्जन मकानों के कवेलू फूट गए।

      भैंसदेही: 12 गांवों में ओलावृष्टि

      12 गांवों में 10 से 15 मिनट तक ओले गिरने से किसानों के खेतों में खड़ी गेहूं और चना की फसलों को नुकसान हुआ। एसडीएम एसडीएम राकेश सिंह मरकाम ने बताया नुकसान का आंकलन कर रहे हैं। मंगलवार सुबह 9 और 10 बजे के बीच पारडी, रायता, मासोद, राक्सी, बोरगांव, आमला, मासोद, जूनावानी, बर्रासायगवान और चिचोलीढाना सहित अन्य गांवों में ओलावृष्टि हुई।

      ओलों की मार से पक्षियों की भी मौत


      मौड़ीढ़ाना के सूरत पवार, दिनेश पवार ने बताया आंवले के आकार से भी बड़े ओले गिरे। इससे मसूर, चना बर्बाद हो गया। गेहूं की बालियां भी झड़ गईं। कई पक्षी भी ओले की मार से मर गए।

      ग्रामीणों ने मंत्री को रोका, कहा- मुआवजा दिलाएं, फिर आगे जाएं

      - पिपरई में थिगली के ग्रामीणों ने चक्काजाम कर दिया। उन्होंने वहां से निकल रहे मंत्री लालसिंह आर्य को भी रोका।

      - कहा- पहले मुआवजा दिलाएं, फिर जाएं। मंत्री 15 मिनट तक समझाते रहे। लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें नहीं जाने दिया। आखिर वे लौट गए।

    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      खेतों में करीब आधा फीट तक ओले गिरे।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      खंडवा, देवास समेत कुछ शहरों में बारिश के साथ ओले गिरे।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      बैतूल में कई जगह दिखा ऐसा नजारा।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      ओलों से शिमला और श्रीनगर की तरह हो गई सड़कें।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      विदिशा के लटेरी में भी ओले गिरने से फसलों को नुकसान हुआ।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      पिपरई में थिगली के ग्रामीणों ने चक्काजाम कर दिया। उन्होंने वहां से निकल रहे मंत्री लालसिंह आर्य को भी रोका।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      नसरुल्लागंज, रेहटी और आष्टा के कई गांवों में ओले गिरे।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
      मौसम वैज्ञानिक एसके नायक ने बताया कि बुधवार को भी भोपाल समेत कई जगह आंधी-बारिश का अनुमान है।
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
    • एमपी के गांवों में ओलों ने बरसाया कहर, गलियां और सड़कें हुईं सफेद
      +10और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Shimla-Like Scenes Showing The Hail From White Roads
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From News

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×