--Advertisement--

PM कर बिना टांके लगाए दिया शव, फिर घर की सुई से किचन में की सिलाई

शव को पोस्टमार्टम के बाद बिना टांके लगाए परिवार को सौंप दिया।

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2017, 12:08 AM IST
किचन में बैठकर स्वीपर में डेडबॉडी में टांके लगाए। किचन में बैठकर स्वीपर में डेडबॉडी में टांके लगाए।

भोपाल. 10 साल में प्रदेश सरकार ने हेल्थ सर्विस पर करोड़ों खर्च किए। लेकिन गांव हो या शहर, सभी जगह गवर्नमेंट हॉस्पिटल बदहाल हैं। ताजा मामला प्रदेश के विदिशा जिले के एक गांव का है। यहां एक महिला की करंट लगने से मौत हो गई थी। उसकी डेडबॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया था, जिसे पोस्टमॉर्टम के बाद बिना टांके लगाए परिवार को सौंप दिया गया। क्या है मामला...

- दरअसल, यह मामला विदिशा जिले के सिंरोज से 15 किमी दूर पगरानी गांव का है।

- यहां शिवशंकर शर्मा की पत्नी नीता की मौत करंट लगने से हो गई थी।

- गवर्नमेंट हॉस्पिटल में पोस्टमॉर्टम के बाद डेडबॉडी को बिना टांके लगाए ही परिवार को लोगों को सौंप दिया गया।

- अंतिम संस्कार के समय उन्हें इसका पता चला। नाराज परिवार वालों ने हॉस्पिटल में हंगामा किया।

- हॉस्पिटल से गांव में एक स्वीपर घर पहुंचा। उसने घर के किचन में बैठकर डेडबॉडी में टांके लगाए। इसके बाद अंतिम संस्कार हुआ।

- परिजनों के मुताबिक बुजुर्ग स्वीपर कल्लू गांव पहुंचा था। उसकी नजर इतनी कमजोर थी कि वह सुई में धागा भी नहीं डाल पाया। तब गांव के युवक ने धागा डाला और इसके बाद घर में रखे डेडबॉडी में टांके लगाए।

डेडबॉडी तो हिलता-डुलती है, हो सकता है टांके खुल गए हों

- इस मामले बीएमओ का कहना है कि डेडबॉडी सिलकर दिया गया। हो सकता है कि टांके खुल गए हो, क्योंकि डेडबॉडी हिलता-डुलती है। जानकारी होने पर डेडबॉडी में टांके लगाने के लिए स्वीपर को गांव भेज दिया।

सीएमएचओ ने माना पीएम में हुई लापरवाही
- सिविल हॉस्पिटल में सोमवार को मृतक नीता दुबे के पीएम में डॉ. विवेक अग्रवाल द्वारा लापरवाही बरते जाने की बात विदिशा के सीएमएचओ डॉ. बीएल आर्य ने स्वीकार की है। डॉ. आर्य ने कहा कि इस लापरवाही के मामले में वरिष्ठ अधिकारियों को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है। जबकि इसी मामले में मृतक महिला के परिजनों ने मंगलवार को कलेक्टर के नाम एक आवेदन देकर संबंधित डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। मृतका के भाई संतोष दुबे का आरोप है कि उसकी बहन के शव के साथ पीएम में डॉ. विवेक अग्रवाल ने खिलवाड़ किया है।

इस दौरान स्वीपर को सुई में धागा पिरोने में दिक्कत का सामना करना पड़ा। इस दौरान स्वीपर को सुई में धागा पिरोने में दिक्कत का सामना करना पड़ा।
परिवार के एक सदस्य ने सुईं में धागा पिरो कर दिया। परिवार के एक सदस्य ने सुईं में धागा पिरो कर दिया।
पोस्टमार्टम के बाद टांके खुले छोड़ दिया था। पोस्टमार्टम के बाद टांके खुले छोड़ दिया था।
अंतिम संस्कार के दौरान परिवार को इसकी जानकारी लगी। अंतिम संस्कार के दौरान परिवार को इसकी जानकारी लगी।
X
किचन में बैठकर स्वीपर में डेडबॉडी में टांके लगाए।किचन में बैठकर स्वीपर में डेडबॉडी में टांके लगाए।
इस दौरान स्वीपर को सुई में धागा पिरोने में दिक्कत का सामना करना पड़ा।इस दौरान स्वीपर को सुई में धागा पिरोने में दिक्कत का सामना करना पड़ा।
परिवार के एक सदस्य ने सुईं में धागा पिरो कर दिया।परिवार के एक सदस्य ने सुईं में धागा पिरो कर दिया।
पोस्टमार्टम के बाद टांके खुले छोड़ दिया था।पोस्टमार्टम के बाद टांके खुले छोड़ दिया था।
अंतिम संस्कार के दौरान परिवार को इसकी जानकारी लगी।अंतिम संस्कार के दौरान परिवार को इसकी जानकारी लगी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..