--Advertisement--

आग से 4 किमी तक फैला जहरीला धुंआ, 3 लाख लोगों को सांस लेने में तकलीफ

भानपुर खंती में सोमवार रात लगी आग ने विकराल रूप धारण कर लिया है।

Dainik Bhaskar

Jan 31, 2018, 05:48 AM IST
Toxic smoke, 3 million people suffering from respiration

भोपाल. भानपुर खंती में सोमवार रात लगी आग ने विकराल रूप धारण कर लिया है। आग से निकल रहे जहरीले धुएं से शहर आबोहवा बिगड़ गई है। भानपुर खंती से करीब 4 किलोमीटर दूर तक इस फैले धुंए के कारण हवा में धूल के कण (पीएम-10) का लेवल 100 से बढ़कर 300 पर पहुंच गया है, जो कि सामान्य से तीन गुना हो गया है। इस जहरीले धुएं का असर करौंद चौराहा, अशोका गार्डन, अरेरा हिल्स से लेकर अयोध्या नगर और आनंद नगर तक धुंए का असर रहा।

खंती के आस-पास की कालोनियों में रहने वाले करीब तीन लाख लोगों को सांस लेने में परेशानी महसूस हुई। नगर निगम ने अपनी 30 फायर फाइटर खंती में उतारी। 20 टैंकर इनको पानी की सप्लाई कर रहे हैं। इनसे 24 घंटे में 200 से ज्यादा टैंकर पानी आग बुझाने के लिए बहाया गया। 100 से अधिक निगमकर्मियों की मशक्कत के बाद भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है।

आग लगने की हो सकती है 3 वजह

कंपनी
- आग लगने के पीछे तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं, इसमें सबसे ज्यादा आशंका खंती के कचरे का निष्पादन का ठेका लेने वाली सौराष्ट्र एन्वायरो इन्फ्रा प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की ओर से आग लगाने की जताई जा रही है।

मिथेन गैस
- खंती में करीब 40 साल पुराना कचरा जमा है। इसकी परत करीब 15-16 फीट मोटी है। ऐसे में संभावना है कि कचरे के अंदर मीथेन गैस बनने से आग लगी हो।


शरारती तत्व
- खंती के आस-पास से लोगाें का आना-जाना रहता है, आशंका है कि किसी शरारती तत्व ने आग लगाई हो।

मुंह और आंखों ढंक कर रखें, इन्फेक्शन हो सकता है
- पर्टिकुलेट मैटर (पीएम) का स्तर तय मानक से ज्यादा होने पर लोगों के गले में एलर्जी और इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। लोगों को घर से बाहर आने पर मुंह और आंखों पर चश्मा पहनकर निकलना चाहिए। साथ ही 300 से ऊपर पीएम जाने पर लोगों को अस्थमा और हृदय रोगियों को कठिनाई हो सकती है।

- डॉ. लोकेंद्र दवे, मेडिसिन डिपार्टमेंट हमीदिया अस्पताल

X
Toxic smoke, 3 million people suffering from respiration
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..