--Advertisement--

छात्रों की पहचान के लिए होगी हॉस्टल की पड़ताल, इनके खिलाफ होगी कार्रवाई

ब्वायज हॉस्टल में अवैध तरीके से रह रहे छात्रों का पता लगाने के लिए अधिकारी अब औचक निरीक्षण करेंगे।

Danik Bhaskar | Jan 19, 2018, 05:23 AM IST

भोपाल. बरकतउल्ला विश्वविद्यालय के ब्वायज हॉस्टल में अवैध तरीके से रह रहे छात्रों का पता लगाने के लिए अधिकारी अब औचक निरीक्षण करेंगे। वार्डन सहित कोई भी अधिकारी या प्रोफेसर कभी भी रात में हॉस्टल का निरीक्षण कर छात्रों की पहचान चैक कर सकता है। हाल ही में छात्रों के दो गुटों के बीच हुई लड़ाई के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह पहल की है।


- इस बीच विवि ने छात्रों के खिलाफ थाने में दर्ज एफआईआर के आधार पर छात्रों के बयान रिकाॅर्ड करना शुरू कर दिया है। इसके आधार पर विवि छात्रों के खिलाफ आगे की कार्रवाई करेगा।

- पिछले दिनों मुंशी प्रेमचंद और जवाहर हॉस्टल के छात्रों के बीच झड़प हो गई थी। इस घटना के बाद छात्रों ने एक दूसरे के खिलाफ बागसेवनिया थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। .

- इससे पहले पुलिस ने छात्रों की शिकायत पर जवाहर हॉस्टल में घुसकर छात्रों को पीटा था। रजिस्ट्रार डॉ. यूएन शुक्ला के अनुसार हॉस्टल में बाहरी छात्रों के रहने की शिकायतें मिलती रहती हैं।

- इससे कारण ही कई बार उपद्रव होते हैं। इसी को देखते हुए औचक निरीक्षण का निर्णय लिया गया है। छात्रों के बयान दर्ज करने के बाद उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

आज 11 महिलाएं बैठेंगी भूख हड़ताल पर
- उधर विश्वविद्यालय के कर्मचारियों की क्रमिक भूख हड़ताल गुरुवार को भी जारी रही। आठ सूत्रीय मांगों को लेकर कर्मचारी शुक्रवार को भी आंदोलन जारी रखेंगे। शुक्रवार को 11 महिला कर्मचारियों ने भूख हड़ताल पर बैठने का निर्णय लिया है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि मांगें पूरी न होने तक हड़ताल जारी रहेगी।


समाधान शिविर में 33 शिकायतों का निराकरण
- इस बीच विश्वविद्यालय में आयोजित किए जा रहे समाधान शिविर के दूसरे दिन गुरुवार को 33 आवेदन प्राप्त हुए। इनमें एटीकेटी परीक्षा में शामिल होने के लिए 18, अंकसूची में सुधार के लिए 8 और डिग्री के लिए 7 आवेदन प्राप्त हुए हैं। विवि प्रबंधन के अनुसार सभी साताें समस्याओं का निराकरण कर दिया गया है।