• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Bhopal News
  • News
  • एकता एवं प्रेम का भाव ही सामाजिक समरसता को बढ़ाता है : डॉ. श्रीवास्तव
--Advertisement--

एकता एवं प्रेम का भाव ही सामाजिक समरसता को बढ़ाता है : डॉ. श्रीवास्तव

आरोन | शासकीय महाविद्यालय आरोन में व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के तहत ‘‘सामाजिक समरसता’’ विषय पर एक व्याख्यानमाला...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:10 AM IST
आरोन | शासकीय महाविद्यालय आरोन में व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के तहत ‘‘सामाजिक समरसता’’ विषय पर एक व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के आरंभ में महाविद्यालय की प्राध्यापक डॉ. सुमन श्रीवास्तव ने सामाजिक समरसता विषय पर प्रकाश डालते हुए बताया कि समाज में एकता एवं प्रेम का भाव ही सामाजिक समरसता को बढ़ाता है। देश के विकास के लिए सामाजिक एकता की आवश्यकता होती है और समाज में एकता की पूर्व शर्त है सामाजिक समता। सामाजिक समता से ही समाज में एकता आएगी। कार्यक्रम प्रभारी डॉ. वीएस मीना ने बताया कि ईश्वर ने सभी जीवों को समान आत्मा प्रदान की है। जब सूर्य, चंद्रमा, हवा, पानी सभी के लिए समान हैं तो हम मानव भेदभाव क्यों करें।