--Advertisement--

भोपाल/ग्वालियर

भोपाल/ग्वालियर

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:10 AM IST
भोपाल/ग्वालियर
राजस्व विभाग ने गत 10 जुलाई और 14 जुलाई 2017 को एक विभागीय आदेश जारी किया था। इस आदेश के तहत प्रदेश के संभागीय आयुक्त कार्यालयों, कलेक्टोरेट, तहसीलों में पदस्थ सहायक अधीक्षकों, स्टेनोग्राफर, टाइपिस्ट, सहायक ग्रेड दो, सहायक ग्रेड तीन, जूनियर डाटा एंट्री ऑपरेट, वाहन चालक व भृत्यों के ट्रांसफर एक जिले से दूसरे जिले में किए गए थे। इस आदेश के बाद इन कर्मचारियों को रिलीव किया जाना था, लेकिन अफसरों ने इसे ठंडे बस्ते में डालकर अपने कार्यालय में पदस्थ कर्मचारियों को कार्यमुक्त ही नहीं किया। इस प्रकार पांच माह गुजर गए। गत 19 दिसंबर को संभागीय आयुक्त चंबल के कार्यालय में पदस्थ एक सहायक ग्रेड तीन कर्मचारी मुकेश गर्ग को रिलीव न करने के मामले में शिकायत की गई। इस आधार पर जब विभाग के अफसरों ने समीक्षा कराई, तो पता चला कि पांच माह बाद तक अफसरों ने इन कर्मचारियों को रिलीव नहीं किया। इस कारण वे अपनी पुरानी सीट पर ही जमकर काम कर रहे थे। इसके चलते गत 26 दिसंबर को विभाग के सचिव व वर्तमान प्रमुख सचिव हरिरंजन राव को आदेश जारी करना पड़ा कि इन कर्मचारियों को एक सप्ताह के अंदर रिलीव किया जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..