--Advertisement--

डीबी स्टार. भोपाल

डीबी स्टार. भोपाल कोलार रोड स्थित नयापुरा के पास मां पहाड़ा वाली माता का मंदिर बहुत प्रसिद्ध है। यहां रोजाना शाम...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:15 AM IST
डीबी स्टार. भोपाल

कोलार रोड स्थित नयापुरा के पास मां पहाड़ा वाली माता का मंदिर बहुत प्रसिद्ध है। यहां रोजाना शाम के वक्त अच्छी-खासी भीड़ रहती है। रविवार और अन्य अवकाश के दिनों में तो सैलानियों का यहां जमावड़ा लगा रहता है। इसकी मुख्य वजह है हरियाली से आच्छांदित पहाड़ और इस पर बने दो मंदिर।

कुछ साल पहले तक यह पहाड़ इतना हरा-भरा नहीं था। नयापुरावासी यहां के पहाड़ों का हश्र होता देख रहे थे। इसी दौरान कुछ रहवासियों ने नयापुरा के पहाड़ को बचाने का बीड़ा उठाया। उन्होंने पहले तो चुनिंदा लोगों को जोड़कर पहाड़ पर पौधे रोपें। फिर जन्मदिन और शादी की सालगिरह पर पौधा लगाने का संकल्प लिया। यह सिलसिला चल पड़ा और देखते ही देखते इस अभियान से कोलार रोड के अन्य जागरुक नागरिक भी जुड़ते चले गए। अब यह छोटा सा समूह वृहद रूप ले चुका है। इस अभियान का आगाज स्व. गुलाब सिंह मीणा ने किया था। बाद में उनके बेटे श्याम सिंह समेत अन्य परिजनों लोगों को जोड़ा। अगर वयोवृद्ध घीसीलाल की माने तो करीब ढाई सौ साल पहले नयापुरा गांव इसी पहाड़ी पर हुआ करता था। बाद में ग्रामीणों ने नीचे आकर एक गांव बसाया, जो नयापुरा कहलाया। कोलार रोड पर बसाहट बढ़ी तो विकास की वेदी पर पहाड़ियों की बलि दे दी गई। सिर्फ यह पहाड़ी बच पाई।