भोपाल

--Advertisement--

केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की जुबान फिसली

केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की रविवार को हुजूर विधानसभा के कालापानी में एक कार्यक्रम के दौरान जुबान...

Danik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:20 AM IST
केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की रविवार को हुजूर विधानसभा के कालापानी में एक कार्यक्रम के दौरान जुबान फिसल गई। उन्होंने मीडिया से चर्चा में कह दिया कि शिवराज जी के जो हमारी पार्टी के पिछले लोग थे, जो यहां सत्ता में थे, अगर वो थोड़ी सी भी ईमानदारी से काम करते तो यहां गरीबी नहीं होती। दरअसल विदेश राज्यमंत्री राजधानी के समीप कालापानी गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने आए थे। इससे पहले उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पिछली सरकार की नीतियों के लिए गरीबी को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने तो गरीबों को कार्ड दिए हैं जिनसे उनकी पहचान है।

सत्ता में रहीं पिछली सरकारों का गरीबों से सिर्फ वोट का रिश्ता रहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के कल्याण के लिए कई कार्य किए हैं। आज गरीब को केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। सरकार गरीबों को उनके मानव अधिकार दिला रही है। उन्होंने कहा कि पिछली जो भी सरकारें सत्ता में रहीं, उनका गरीबों से सिर्फ वोट का ही रिश्ता रहा। उन्होंने गरीब की गरीबी को हटाए जाने के लिए कुछ भी नहीं किया।

Click to listen..