भोपाल

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Bhopal News
  • News
  • एडिशनल कमिश्नर की जगह क्लर्क मंजूर करेंगे टेंडर, उपायुक्त स्वीकृत करेंगे वरिष्ठ अफसरों की छुट्टी
--Advertisement--

एडिशनल कमिश्नर की जगह क्लर्क मंजूर करेंगे टेंडर, उपायुक्त स्वीकृत करेंगे वरिष्ठ अफसरों की छुट्टी

नगर निगम में जारी हुए तीन प्रशासनिक आदेश चर्चा का विषय बने हुए हैं। विकास कार्यों के टेंडर मंजूर करने के लिए बनने...

Danik Bhaskar

Mar 02, 2018, 02:20 AM IST
नगर निगम में जारी हुए तीन प्रशासनिक आदेश चर्चा का विषय बने हुए हैं। विकास कार्यों के टेंडर मंजूर करने के लिए बनने वाली वरिष्ठ अधिकारियों की कमेटी में अपर आयुक्त (वित्त) प्रवीण श्रीवास्तव की जगह क्लर्क अमित मैथ्यू को शामिल किया गया है। मैथ्यू 20 लाख रुपए तक के टेंडर मंजूरी पर श्रीवास्तव के स्थान पर हस्ताक्षर करेंगे।

उपायुक्त एलआर कोली को स्थापना से संबंधित समस्त शक्तियां दे दी गईं हैं। ऐसे में चारों अपर आयुक्तों वीके चतुर्वेदी, मलिका निगम नागर, एमपी सिंह और प्रवीण श्रीवास्तव सहित सभी की छुट्टियां कोली मंजूर करेंगे। कोली को जीपीएफ आदि से संबंधित कार्यों की भी शक्तियां दे दी गईं हैं। एक अन्य आदेश में अपर आयुक्त एमपी सिंह को निगमायुक्त ने अपनी सभी प्रशासनिक और वित्तीय शक्तियां दे दी हैं। इसका अर्थ हुआ कि वे दो करोड़ रुपए तक के भुगतान मंजूर कर सकेंगे। उन्हें नियुक्तियां करने के अधिकार भी दे दिए गए हैं। यह पूरा मामला अधूरे प्रोजेक्ट को कम्प्लीशन सर्टिफिकेट जारी करने के मामले में अपर आयुक्त चतुर्वेदी व मलिका पर कार्रवाई से जुड़ा हुआ है। चतुर्वेदी से जीएडी लेकर एमपी सिंह को दे दिया गया। और इंजीनियरिंग निगमायुक्त ने अपने पास रख लिया था। एमपी सिंह के पास स्वास्थ्य व जलकार्य जैसे बड़े विभाग भी हैं। इसलिए जीएडी का स्थापना वाला हिस्सा उपायुक्त एलआर कोली को दे दिया गया। प्रवीण श्रीवास्तव के पास फाइनेंस के साथ राजस्व का भी प्रभार है।

Click to listen..